scorecardresearch

मोदी की 56 इंच चौड़ी छाती पर चीनी चढ़े बैठे हैं और वह चुपचाप हैं- बीजेपी सांसद का पीएम पर वार

सुब्रमण्यम स्वामी ने ट्वीट में लिखा कि वास्तव में मोदी को पता भी नहीं है कि चीन उनके सीने पर बैठा हुआ है और वे कोई आया नहीं का नारा लगा रहे हैं।    

2020 में गलवान घाटी में हुए हिंसक विवाद के बाद से दोनों देशों के बीच सीमा विवाद जारी है। (एक्सप्रेस फाइल फोटो)

चीन और सीमा सुरक्षा के मुद्दे पर अपनी ही सरकार को घेरने वाले भाजपा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने एक बार फिर से पीएम मोदी पर तंज कसा है। भाजपा सांसद ने ट्वीट करते हुए लिखा कि मोदी की 56 इंच चौड़ी छाती पर चीनी चढ़े बैठे हैं और वह चुपचाप हैं।

दरअसल शुक्रवार को प्रीतम सर्वविद्या नाम के एक ट्विटर यूजर ने एक खबर को शेयर किया जिसमें चीन के रक्षा मंत्रालय ने अमेरिका पर निशाना साधते हुए कहा था कि भारत के साथ उसका सीमा विवाद दोनों देशों के बीच का मुद्दा है। इसलिए इस विवाद में किसी तीसरे देश को हस्तक्षेप नहीं करना चाहिए। इसी खबर को ट्वीट करते हुए यूजर ने अपने ट्वीट में भाजपा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी को भी टैग किया था और लिखा कि अब चीन अमेरिका को दखल नहीं देने की धमकी दे रहा है।

जिसके बाद सुब्रमण्यम स्वामी ने ट्वीट का जवाब देते हुए लिखा कि भारत के साथ “मिलकर” काम कर रहा है, चीन ने अमेरिका को अपने काम पर ध्यान देने के लिए कहा है क्योंकि चीनी मोदी की 56 इंच वाली छाती पर बैठे हैं और वे इसका विरोध भी नहीं कर रहे हैं। वास्तव में मोदी को पता भी नहीं है कि चीन उनके सीने पर बैठा हुआ है और वे कोई आया नहीं का नारा लगा रहे हैं।   

बता दें कि भारत और चीन के बीच 12 जनवरी को 14वें दौर की बातचीत हुई थी। उससे पहले व्हाइट हाउस के प्रवक्ता जेन पास्की ने भारत और चीन के बीच चल रहे सीमा विवाद को लेकर टिप्पणी करते हुए कहा था कि चीन पर अपने पड़ोसियों को डराने-धमकाने का प्रयास करता है और हम चीन के इस व्यवहार पर नजर बनाए हुए हैं। अमेरिकी अधिकारी द्वारा दिए गए बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए चीनी रक्षा मंत्रालय ने कहा कि सीमा समस्या एक द्विपक्षीय मामला है और चीन और भारत दोनों तीसरे पक्ष के हस्तक्षेप का विरोध करते हैं। दोनों देशों के बीच चल रही वार्ता सकारात्मक रही है। सीमा समस्या को सुलझाने के लिए दोनों देश मिलकर काम कर रहे हैं।

गौरतलब है कि साल 2020 के मई महीने में पूर्वी लद्दाख के गलवान घाटी में सीमा विवाद को लेकर दोनों देशों की सेनाएं आमने सामने आ गई। दोनों देशों के बीच उपजा यह विवाद तब हिंसक हो गया जब गलवान में हुए संघर्ष में करीब 20 भारतीय सैनिकों की मौत हो गई।

पढें राष्ट्रीय (National News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट