ताज़ा खबर
 

पेगासस जासूसीः भाजपा सांसद ने ‘मोदी के दोस्त’ पर उठाए सवाल, बोले- फ्रांस के कोर्ट को देने चाहिए सारे दस्तावेज

भाजपा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा है कि इजरायल पूर्व प्रधानमंत्री नेतन्याहू के किए का खामियाजा क्यों भुगते। उसे फ्रांस के कोर्ट को सारे दस्तावेज दे देने चाहिए।

तस्वीर बेंजामिन नेतन्याहू के भारत दौरे की समय की है। फोटो- एक्सप्रेस आर्काइव

पेगासस सॉफ्टवेयर से कथित जासूसी मामले में भारत की संसद में हंगामा हो रहा है तो वहीं यह एक अंतरराष्ट्रीय मुद्दा है। रिपोर्ट्स के मुताबिक इस सॉफ्टवेयर से 45 देशों के लोगों को टारगेट किया गया। फ्रांस सरकार ने इस मामले के जांच के आदेश भी दे दिए हैं। वहीं भाजपा सांसद सुब्रमण्मय स्वामी ने इजरायल के पूर्व प्रधानमंत्री बेंजमिन नेतन्याहू की सरकार पर सवाल उठाए हैं। बता दें कि उनके कार्यकाल के दौरान पीएम मोदी ने भी इजरायल का दौरा किया था और नेतन्याहू ने उन्हें ‘मेरा दोस्त’ कहकर संबोधित किया था। इसके बाद भी सोशल मीडिया पर इंटरैक्शन के दौरान वह मोदी को दोस्त कहते रहे हैं।

स्वामी ने अपने ट्वीट में लिखा, ‘मुझे लगता है कि इस मामले में इजरायल में एक मजबूत लॉबी मिलेगी। पेगासस स्कैंडल मामले में पूर्व प्रधानमंत्री नेतन्याहू के किए की सजा इजरायल क्यों भुगते? मेरी सलाह है कि फ्रांस के कोर्ट को सारे दस्तावेज मुहैया करवाने चाहिए। उम्मीद है भारत पाक-साफ रहेगा।’

बता दें कि स्वामी इससे पहले यह भी कह चुके हैं कि पीएम मोदी को इजरायल के लिए पत्र लिखना चाहिए और कहना चाहिए कि इस सॉफ्टवेयर को जिन लोगों ने खरीदा है उनके नाम उजागर करें। वर्तमान में नफ्ताली बेनेट इजरायल के पीएम हैं। इसी साल इजरायल में सरकार बदली है। इससे पहले नेतन्याहू प्रधानमंत्री थे और वह भारत के दौरे पर भी आए थे।

इजरायल की ही कंपनी एनएसओ ने यह सॉफ्टवेयर तैयार किया है और जानकारी के मुताबिक कई देशों की सरकारों को बेचा है। इस सॉफ्टवेयर से जिन लोगों की जासूसी की जा रही थी उनमें कई राजनेताओ, अधिकारियों और पत्रकारों के नाम सामने आए हैं। भारत में भी 300 नाम सामने आए हैं जिनमें दो केंद्रीय मंत्री, राहुल गांधी, प्रशांत किशोर जैसे लोग शामिल हैं। बताया जा रहा है कि यह सॉफ्टवेयर न केवल ऑडियो ट्रैक करता है बल्कि सारी डीटेल भी ट्रांसफर कर देता है। विपक्ष इस मामले में सरकार को घेरने में कसर नहीं छोड़ रहा। वहीं सरकार का कहना है कि उसका इस मामले में कोई हाथ नहीं है।

Next Stories
1 हार के बाद दसुन शनाका पर भड़के कोच मिकी आर्थर, श्रीलंकाई कप्तान ने कोच को दिखाया बाहर का रास्ता; देखें ये वीडियो
2 बिहार में भाजपा के साथ मुकेश सहनी, बोले- आरक्षण नहीं मिला तो नहीं देंगे योगी का साथ
3 कांग्रेस को बचाना PK के लिए मुश्किल, पत्रकार ने बताई वजह, ट्विटर पर लोग भी गिनाने लगे तर्क
ये पढ़ा क्या?
X