संसद में झप्पी पर शॉटगन ने की राहुल की तारीफ, मोदी पर तंज- जरा सी बात का अफसाना बना देते हैं लोग

अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर ताबड़तोड़ हमले किए थे। उन्होंने प्रधानमंत्री पर वादाखिलाफी का आरोप लगाया और पूछा कि अच्छे दिन कब आने वाले हैं। दो करोड़ युवाओं को कब रोजगार मिलने वाले हैं।

शत्रुघ्न सिन्हा ने अविश्वास प्रस्ताव पर लोकसभा में चर्चा के दौरान राहुल गांधी द्वारा पीएम नरेंद्र मोदी को गले लगाने की तारीफ की है।

अविश्वास प्रस्ताव पर भाजपा के पक्ष में खड़े रहने वाले और मीडिया में खुलकर बयान देने वाले पटना साहिब से भाजपा सांसद शत्रुघ्न सिन्हा ने अविश्वास प्रस्ताव पर लोकसभा में चर्चा के दौरान राहुल गांधी द्वारा पीएम नरेंद्र मोदी को गले लगाने की तारीफ की है। शत्रुघ्न सिन्हा ने ट्वीट कर कहा है, “प्यार की झप्पी देकर राहुल गांधी ने राजनीति में उम्दा कदम उठाया है।” उन्होंने इसी बहाने पीएम मोदी पर तंज भी कसा है और लिखा है, “विदेशी मेहमानों को गले लगाकर स्वागत करना पीएम मोदी का ट्रेडमार्क नहीं है। इस बार यह अलग सा था। इसे प्यार से हमें स्वीकार करना चाहिेए।” उन्होंने आगे लिखा है, “जरा सी बात का अफसाना बना देते हैं लोग, कैसे नादां हैं कि शोलों को हवा देते हैं लोग।”

उधर, गोवा बीजेपी के प्रवक्ता दत्ता प्रसाद नायक ने कांग्रेस अध्यक्ष द्वारा पीएम को गले लगाने पर उन्हें लोफर कहा है। नायक ने कहा कि राहुल गांधी को न तो देश के मुद्दों की समझ है और न ही वो देश की जनभावना की समझ रखते हैं। उन्होंने लोकतंत्र के मंदिर में पीएम को गले लगाकर अपने लोफर होने का परिचय दिया है। नायक ने कांग्रेस को गांधी परिवार की कठपुतली करार दिया। दिल्ली में भी अकाली-भाजपा गठबंधन के विधायक मनजिंदर सिंह सिरसा ने दिल्ली के कई इलाकों में पीएम से गले मिलनेवाली तस्वीर लगी होर्डिंग्स लगवाकर राहुल गांधी पर निशाना साधा है और नसीहत दी है कि कांग्रेस ने 1984 के दंगों में सिखों को जो जख्म दिया है, उसे मिटाने के लिए गले मिलो। होर्डिंग्स में जगदीश कौर नाम की एक महिला की भी तस्वीर छपी है। उसके बारे में लिखा है कि 1984 में जसवीर के पूरे परिवार को जिंदा जला दिया गया था।

अकाली-भाजपा गठबंधन के विधायक मनजिंदर सिंह सिरसा ने दिल्ली के कई इलाकों में पीएम से गले मिलनेवाली तस्वीर लगी होर्डिंग्स लगवाकर राहुल गांधी पर निशाना साधा है।

बता दें कि शुक्रवार (20 जुलाई) को लोकसभा में अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर ताबड़तोड़ हमले किए थे। उन्होंने प्रधानमंत्री पर वादाखिलाफी का आरोप लगाया और पूछा कि अच्छे दिन कब आने वाले हैं। दो करोड़ युवाओं को कब रोजगार मिलने वाले हैं। अपने भाषण के अंत में राहुल गांधी अपनी सीट से पीएम मोदी की सीट तक गए और उन्हें गले लगाया। इस पर काफी सियासी विवाद उठा था। लोकसभा स्पीकर ने भी इसे अनुचित करार दिया था। हालांकि, बाद में उन्होंने कहा था कि राहुल उनके बेटे जैसे हैं।

Next Stories
1 भाजपा, बजरंग दल से जुड़े हैं अग्‍निवेश को पीटने के सभी आरोपी, कोई एनजीओ वाला तो कोई है ठेकेदार
2 हिंदी न्यूज 24 जुलाई 2018: स्विस बैंक में 34% तक कम हुई भारतीयों की जमा रकम, वित्त मंत्री ने संसद में दी जानकारी
3 RSS के बड़े नेता बोले- लोग बीफ ना खाएं तो रुक जाएगा भीड़ का कत्ल-ए-आम
ये पढ़ा क्या?
X