MP: जिंदा जलाने की घमकी देने वाले कांग्रेस MLA के खिलाफ FIR दर्ज कराने थाने पहुंची प्रज्ञा ठाकुर

कांग्रेस के विधायक गोवर्धन दांगी की धमकी और माफी के बाद प्रज्ञा ने 30 नवंबर को ट्वीट कर दांगी को चुनौती दी थी कि वह आठ दिसंबर को उनके निर्वाचन क्षेत्र ब्यावरा में उनके घर आएंगी।

Author भोपाल | Updated: December 8, 2019 4:31 PM
दिल्लीलोकसभा सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर, फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस

मध्यप्रदेश के भोपाल में भाजपा की विवादास्पद सांसद प्रज्ञा ठाकुर ने कांग्रेस विधायक के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने के लिए थाना पहुंची। बता दें कि प्रज्ञा शनिवार (07 दिसंबर) की रात को कमला नगर पुलिस थाने पहुंची और उन्होंने कांग्रेस के एक विधायक पर उन्हें जिंदा जलाने का कथित रूप से बयान देने के आरोप में कांग्रेस नेता के खेलाफ प्राथमिकी दर्ज करने की मांग की। इस मामले में भोपाल के दक्षिण जोन-2 के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक संजय साहू ने बताया कि अभी हम सांसद प्रज्ञा ठाकुर के साथ बातचीत कर रहे हैं।

क्या कहा था विधायक नेः मध्य प्रदेश में राजगढ़ जिले के ब्यावरा सीट से कांग्रेस विधायक गोवर्धन दांगी ने लोकसभा में महात्मा गांधी के हत्यारे के बारे में दिए गए कथित बयान के विरोध किया था। इस विरोध में उन्होंने प्रज्ञा के खिलाफ अपने निर्वाचन क्षेत्र में पिछले दिनों प्रदर्शन भी किया था। प्रदर्शन के दौरान कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने प्रज्ञा का पुतला जलाया था। बता दें कि प्रदर्शन के दौरान दांगी ने कथित तौर पर कहा था कि यदि प्रज्ञा ने उनके निर्वाचन क्षेत्र में कदम रखा तो उन्हें जिंदा जला देगें।

Hindi News Today, 08 December 2019 LIVE Updates: बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करें

विधायक का वीडियो हो गया था वायरलः बता दें कि दांगी के बयान देने के बाद वहां मौजूद लोगों ने वीडियो बना लिया था। इसके बाद देखते ही देखते वीडियो तेजी से सोशल मीडिया पर वायरल हो गया था। घटना के तूल पकड़ने से बाद विधायक दांगी ने माफी मांग ली थी। दांगी माफी मांगते हुए यह भी कहा कि वह एक गांधीवादी हैं। गौरतलब है कि उनके माफी मांगने से पहले ही यह मामला चर्चा का विषय बन गया था।

प्रज्ञा ने दर्ज कराया एफआईआरः बता दें कि विधायक की धमकी और माफी के बाद प्रज्ञा ने 30 नवंबर को ट्वीट कर दांगी को चुनौती दी कि वह आठ दिसंबर को उनके निर्वाचन क्षेत्र ब्यावरा में उनके घर आ रही हैं। उन्होंने यह भी चुनौती दी कि वह उनके सामने खड़ी रहेगी और वह जला पाए तो उन्हें जिंदा जला लेंगें। लेकिन उसके एक दिन पहले ही प्रज्ञा ठाकुर कांग्रेस विधायक दांगी के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराने के लिए पुलिस थाने पहुंच गईं।

Next Stories
1 IPC और CrPC में संशोधन पर DGP के सम्मेलन में गृहमंत्री ने लगाई मुहर, एक दिन पहले ही उनकी मिनिस्ट्री ने राज्यों से मांगा है सुझाव
2 UP: सैटेलाइट से पराली जलाने वालों पर नजर रखने वाली सरकार, फसल बीमा का लाभ देने में क्यों नहीं दिखाती मुस्तैदी; किसान नेता ने दी ये चेतावनी
3 सबरीमला में श्रद्धालुओं की भारी भीड़, 20 दिनों में ही आय 69 करोड़ रू के पार पहुंची
यह पढ़ा क्या?
X