ताज़ा खबर
 

आतंकी हमले का आरोप झेल रही बीजेपी सांसद रक्षा मंत्रालय की संसदीय समिति में नामित, UAPA में हैं अंडरट्रायल

अभी साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर पर गैरकानूनी गतिविधियां (निरोधक) एक्ट के तहत कई मामलों में मुकदमा चल रहा है। इससे पहले चुनाव जीतने के बाद ही साध्वी का नाम लगातार विवादों में आता रहा है।

Author नई दिल्ली | Published on: November 21, 2019 8:46 AM
प्रज्ञा ठाकुर, राजनाथ सिंह की अध्यक्षता वाली 21 सदस्यों की समिति का हिस्सा होंगी। (File Photo)

मालेगांव बम विस्फोट हमले में आरोप झेल रही भाजपा की सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर को रक्षा मंत्रालय की संसदीय समिति के लिए नामित किया गया है। 21 सदस्यों वाली इस समिति की अध्यक्षता रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह करेंगे।

मध्यप्रदेश के भोपाल से सांसद प्रज्ञा ठाकुर ने लोकसभा चुनाव में कांग्रेस के वरिष्ठ राजनेता और दो बार के पूर्व मुख्यमंत्री रहे दिग्विजय सिंह को हराया था। बॉम्बे हाई कोर्ट ने आतंकी हमले की आरोपी मौजूदा सांसद को अप्रैल 2017 में खराब स्वास्थ्य के आधार पर जमानत मंजूर की थी। इससे पहले राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) ने प्रज्ञा पर महाराष्ट्र कंट्रोल ऑफ ऑर्गनाइज्ड क्राइम एक्ट के तहत आरोप दर्ज किए थे।

हालांकि, अदालत ने साध्वी पर मकोका के तहत लगाए गए आरोपों को खारिज कर दिया था। अभी साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर पर गैरकानूनी गतिविधियां (निरोधक) एक्ट के तहत कई मामलों में मुकदमा चल रहा है। इससे पहले चुनाव जीतने के बाद ही साध्वी का नाम लगातार विवादों में आता रहा है।

चुनाव जीतने के बाद लोकसभा में उनके शपथ लेने के समय ही विवाद हो गया था। उन्होंने अपना नाम साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर पूर्णचेतनानंद अवधेशानंद गिरी बोला था। इतना ही नहीं शपथ पूरी करने के बाद उन्होंने भारत माता की जय बोला। उन्होंने संस्कृत में शपथ ली थी। कांग्रेस समेत लोकसभा सदस्यों ने उनके नाम पर आपत्ति जताई थी। बाद में अध्यक्ष के हस्तक्षेप के बाद यह मामला शांत हुआ था।

इससे पहले चुनाव प्रचार के दौरान साध्वी ने महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को देशभक्त बताने, महाराष्ट्र एटीएस के पूर्व प्रमुख हेमंत करकरे को लेकर विवादित बयान दिया था। इस साल अक्टूबर में उन्होंने महात्मा गांधी को राष्ट्रपिता की जगह राष्ट्रपुत्र बताया था।

भोपाल रेलवे स्टेश में एक कार्यक्रम के दौरान उन्होंने कहा कि गांधीजी राष्ट्रपुत्र हैं। गांधीजी इस धरा के सुपुत्र हैं। राम इस धरा के पुत्र हैं। महाराणा प्रताप, शिवाजी महाराजा इस धरा के पुत्र हैं। उन्होंने कहा कि देश के लिए जिन्होंने सराहनीय कार्य किया है वे निश्चित रूप से हमारे लिए आदर के योग्य हैं और हम उनके कदमों पर चलते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 BJP विधायक का आरोप- बेटी की डिलीवरी के लिए करना पड़ा 12 घंटे इंतजार, सरकारी अस्पताल में नहीं मिले डॉक्टर
2 BHU में ज्वाइनिंग के बाद से विरोध झेल रहे मुस्लिम प्रोफेसर थे अंडरग्राउंड, अब घर गए तो समर्थन में उतरा छात्रों का दूसरा ग्रुप
3 Weather Forecast Today Highlights: कश्मीर-लद्दाख-हिमाचल में होगी भारी बारिश, जानें देश में मौसम का हाल
जस्‍ट नाउ
X