bjp mp manoj tiwari compare amit shah to lord ram - बीजेपी सांसद मनोज तिवारी ने अमित शाह को बताया भगवान राम - Jansatta
ताज़ा खबर
 

बीजेपी सांसद मनोज तिवारी ने अमित शाह को बताया भगवान राम

मनोज तिवारी ने कहा कि रावण अपने खिलाफ बोलने वाले किसी भी व्यक्ति को प्रताड़ित करता था, उसका ये ही चरित्र था। जबकि दूसरी तरफ भगवान राम उनकी आलोचना करने वाले व्यक्ति को भी सुनते थे।

मनोज तिवारी ने केजरीवाल सरकार को कहा-बाहर करो रोहिंग्या (image source-PTI)

भाजपा सांसद मनोज तिवारी ने भाजपा अध्यक्ष अमित शाह की तुलना भगवान राम से की है। दरअसल रविवार को समाजवादी पार्टी के नेता रामगोविंद चौधरी ने भाजपा की जमकर आलोचना की थी और अमित शाह की तुलना रावण से की थी। इसके जवाब में सोमवार को मनोज तिवारी ने कहा कि ‘समाजवादी पार्टी के नेता इस तरह की बयानबाजी झुंझलाहट में कर रहे हैं, क्योंकि उनका जनाधार खिसक गया है। मनोज तिवारी ने आगे कहा कि रावण अपने खिलाफ बोलने वाले किसी भी व्यक्ति को प्रताड़ित करता था, उसका ये ही चरित्र था। जबकि दूसरी तरफ भगवान राम उनकी आलोचना करने वाले व्यक्ति को भी सुनते थे और उसे भी समझाने का प्रयास करते थे। अमित शाह ने सपा नेता रामगोविंद चौधरी के खिलाफ कोई कारवाई करायी, नहीं ना क्योंकि अमित शाह का चरित्र राम का चरित्र है। अमित शाह भगवान राम हैं।’

बता दें कि इससे पहले रविवार को समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता रामगोविंद चौधरी ने एक कार्यक्रम के दौरान भाजपा सरकार पर जमकर निशाना साधा था। इस दौरान राम गोविंद चौधरी ने भाजपा अध्यक्ष अमित शाह की तुलना रावण से करते हुए कहा था कि रावण बहुत बुद्धिमान था, लेकिन जब उसमें अहंकार आ गया तो उसका समय खराब हुआ और उसके यहां कोई नहीं बचा। यही हाल अमित शाह का भी होना है। रामगोविंद चौधरी ने आगे कहा कि आज भाजपा न्यायपालिका, विधायिका और कार्यपालिका सभी को अपने कब्जे में ले रही है। रामगोविंद चौधरी ने कहा कि भाजपा वो सारे काम कर रही है, जिनसे समाज में तनाव फैले।

रामगोविंद चौधरी ने भाजपा विधायकों को मिल रही धमकियों पर कहा कि यूपी में कानून व्यवस्था सबसे ज्यादा खराब है, अगर वास्तव में 12 भाजपा विधायकों को धमकी मिली है तो इस सरकार को डूब मरना चाहिए। बता दें कि विदेशी नंबरों से भाजपा के कई विधायकों को अभी तक धमकी भरे कॉल आ चुके हैं। पुलिस इस मामले की जांच में जुटी है, खबर है कि अब आईबी को भी इसकी जांच में लगाया जा सकता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App