ताज़ा खबर
 

‘उधार का सरनेम लेने से कोई गांधी नहीं होता’, देशभक्त होने के लिए शुद्ध हिन्दुस्तानी खून चाहिए- राहुल पर गिरिराज सिंह का हमला

गिरिराज सिंह ने ट्वीट कर लिखा कि "वीर सावरकर तो सच्चे देशभक्त थे...उधार का सरनेम लेने से कोई गांधी नहीं होता, कोई देशभक्त नहीं बनता...देशभक्त होने के लिए रगों में शुद्ध हिंदुस्तानी रक्त होना चाहिए।

rahul gandhiगिरिराज सिंह ने ट्वीट कर साधा राहुल गांधी पर निशाना। (पीटीआई फोटो/फाइल)

आज दिल्ली के रामलीला मैदान में आयोजित हुई रैली में राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि ‘कल मुझसे बीजेपी के लोग माफी मांगने के लिए कह रहे थे। भाइयों-बहनों लेकिन मेरा नाम राहुल सावरकर नहीं हैं, मेरा नाम राहुल गांधी है। मर जाऊंगा, लेकिन माफी नहीं मांगूंगा।’ राहुल गांधी के इस बयान पर भाजपा नेताओं ने भी पलटवार किया है।

भाजपा नेता और केन्द्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने ट्वीट कर लिखा कि “वीर सावरकर तो सच्चे देशभक्त थे…उधार का सरनेम लेने से कोई गांधी नहीं होता, कोई देशभक्त नहीं बनता…देशभक्त होने के लिए रगों में शुद्ध हिंदुस्तानी रक्त होना चाहिए। वेश बदलकर बहुतों ने हिंदुस्तान को लूटा है अब यह नहीं होगा। अपने ट्वीट के साथ गिरिराज सिंह ने राहुल गांधी, सोनिया गांधी और प्रियंका गांधी की तस्वीर भी पोस्ट की है। गिरिराज सिंह ने लिखा कि यह तीनों कौन है? क्या यह तीनों देश के आम नागरिक हैं??”

भाजपा नेता संबित पात्रा ने भी राहुल गांधी पर निशाना साधा और मीडिया से बात करते हुए उनके उस बयान पर, जिसमें उन्होंने कहा कि वह राहुल सावरकर नहीं हैं, पात्रा ने तीखा तंज कसा। संबित पात्रा ने कहा कि ‘राहुल गांधी कभी सावरकर नहीं बन सकते। सावरकर एक वीर और देशभक्त थे। राहुल गांधी आर्टिकल 370, सर्जिकल स्ट्राइक और CAB पर पाकिस्तान की भाषा बोल रहे हैं।’

बता दें कि हाल ही में झारखंड में एक रैली के दौरान राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए कहा था कि ‘मोदी जी ने मेक इन इंडिया का नारा दिया था, लेकिन आजकल अखबार खोलों तो सिर्फ रेप इन इंडिया दिखता है।’ राहुल गांधी के इस बयान पर शुक्रवार को संसद में काफी हंगामा हुआ और भाजपा सांसदों ने उनके इस बयान के लिए माफी की मांग की।

हालांकि राहुल गांधी ने माफी मांगने से साफ इंकार कर दिया। शनिवार को रैली में भी राहुल गांधी ने पीएम मोदी और उनकी सरकार पर तीखा हमला बोला। राहुल गांधी ने अपने संबोधन में कहा कि “इस देश का सबसे ज्यादा नुकसान किसी और ने नहीं बल्कि प्रधानमंत्री ने किया है। पिछले पांच सालों में नरेंद्र मोदी ने अडानी को 50 कॉन्ट्रैक्ट दिए हैं। देश के एयरपोर्ट पकड़ा दिए, ये कॉन्ट्रैक्ट क्यों दिए? 1 लाख 40 हजार करोड़ रुपए, 15-20 लोगों का कर्ज माफ किया है।”

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 जामिया यूनिवर्सिटी में सभी परीक्षाएं रद्द, 5 जनवरी तक छुट्टी; Citizenship Act के खिलाफ हुआ था हिंसक प्रदर्शन
2 BJP के साथ लड़ी शिवसेना इसलिए मिले वोट, फडनवीस की पत्नी अमृता बोलीं- भाई भतीजावाद की पराकाष्ठा
3 Indian Railways ने असम हिंसा के चलते रद्द की 106 ट्रेनें, कहीं आप भी प्रभावित तो नहीं, देखें लिस्ट
IPL 2020 LIVE
X