BJP MLA ने दी अधिकारी को थप्पड़ मारने की धमकी, गुजरात सरकार पर लगाया आरोप- धर्म के काम में कर रही देरी

गुजरात बीजेपी के प्रवक्ता भरत पांड्या ने विधायक के बर्ताव की निंदा करते हुए कार्रवाई करने की बात कही थी, लेकिन डिप्टी सीएम नितिन पटेल ने कहा कि जरूरी नहीं है कि सभी मांगें मान ली जाएं।

Madhu-Shrivastavपत्रकार से बदसलूकी करते बीजेपी विधायक (फोटो- भूपेंद्र राणा)

गुजरात में एक बीजेपी विधायक पर सरकारी अधिकारी को थप्पड़ मारने की धमकी देने का आरोप लगा है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक वाघोड़िया से बीजेपी विधायक मधु श्रीवास्तव ने शुक्रवार (24 जनवरी) को ने हनुमान जी की मूर्ति लगाने पर हुए विवाद के बीच राजस्व अधिकारी को थप्पड़ मारने की धमकी दी। अधिकारी वडोदरा के वाडी इलाके में स्थित महादेव तालाब के बीच हनुमान मूर्ति लगवाने में कथित तौर पर देरी कर रहे थे। हालांकि रिकॉर्ड्स के मुताबिक श्रीवास्तव राजस्व विभाग की अनुमति के बिना पहले ही मूर्ति का निर्माण शुरू करवा चुके थे।

यह है मामलाः शुक्रवार को सावली से बीजेपी विधायक केतन इनामदार और राज्य बीजेपी के अध्यक्ष जीतू वघाणी के बीच इस मुद्दे पर बैठक भी हुई थी। विधायक मधु श्रीवास्तव का एक मैसेज सोशल मीडिया पर वायरल होने लगा, जिसमें इस्तीफे की धमकी की बात कही जा रही थी। हालांकि कुछ ही घंटों में श्रीवास्तव ने साफ कर दिया कि वे इस्तीफा नहीं देंगे। उन्होंने यह भी कहा कि यदि कोई राजस्व अधिकारी उनके पास आया तो वे उसे थप्पड़ मार देंगे।

‘हाईकोर्ट ने लगा रखी है रोक’: श्रीवास्तव का कहना है, ‘राज्य में विकास के काम हो रहे हैं लेकिन धर्म के कामों में समय लगता है। राजस्व मंत्री जानबूझकर फाइलें दबाए रखते हैं।’ इस पर सफाई देते हुए गुजरात के राजस्व मंत्री कौशिक पटेल ने कहा कि उनका विभाग इस प्रोजेक्ट को पूरा करवाने की कोशिश में था, लेकिन हाईकोर्ट ने जलाशयों में निर्माण पर रोक लगा रखी है। उनका कहना है कि निर्माण की मंजूरी देने से पहले कोर्ट की अनुमति लेनी पड़ेगी।

Hindi News Live Hindi Samachar 25 January 2020: देश-दुनिया की तमाम अहम खबरों के लिए क्लिक करें

108 फीट की मूर्ति लगने का है मामलाः श्रीवास्तव ने इस निर्माण को लेकर सवाल पूछने वाले एक स्थानीय पत्रकार के साथ भी बदसलूकी की थी। बता दें कि यहां तालाब में हनुमान जी की 108 फीट की मूर्ति लगनी है। श्रीवास्तव के बेटे दीपक भी इलाके में पार्षद हैं। वडोदरा नगर निगम की तरफ से यह प्रस्ताव फरवरी 2019 में ही पास किया जा चुका है, इसके साथ एक पैदल पुल के निर्माण की भी मंजूरी दी गई है।

डिप्टी CM बोले- जरूरी नहीं हर बात मान लेंः गुजरात बीजेपी के प्रवक्ता भरत पांड्या ने विधायक के बर्ताव की निंदा करते हुए कार्रवाई करने की बात कही थी, लेकिन डिप्टी सीएम नितिन पटेल ने कहा कि जरूरी नहीं है कि सभी मांगें मान ली जाएं। उन्होंने कहा, ‘राज्य में तालाबों, झीलों और नदियों के संरक्षण के लिए कुछ दिशानिर्देश तय हैं। राजस्व विभाग मधुभाई के प्रस्ताव को मंजूरी दिलाने की कोशिश कर रहा है।’

Next Stories
1 मां की गोद से नवजात को छीना और डांस करने लगा किन्नर, छूटकर गिरा बच्चा, मौके पर ही मौत
2 ‘टॉपर मोदी को ज्ञान दे रही हर परीक्षा में फेल कांग्रेस’, CAA पर विरोध को लेकर भड़के गुजरात के डिप्टी CM
3 पटना के वूमंस कॉलेज में बुर्का पहन के आने पर पाबंदी, नियम तोड़ने पर लगेगा 250 रुपये जुर्माना
आज का राशिफल
X