ताज़ा खबर
 

राहुल गांधी की जैकेट पर बवाल: बीजेपी नेता ने रेणुका चौधरी को भेजे 700 रुपये, कहा- यही जैकेट मुझे भेजो

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मेघालय यात्रा के दौरान 70,000 रुपये का जैकेट पहना था। इसके बचाव में रेणुका चौधरी ने कहा था कि ऐसा जैकेट वह 700 रुपये में दिला सकती हैं।

Author नई दिल्ली | February 1, 2018 9:15 PM
राहुल गांधी ने 30 जनवरी को मेघालय के मुख्यमंत्री मुकुल संगमा के साथ शिलांग में एक म्यूजिकल कंसर्ट में हिस्सा लिया था। उनके इसी जैकेट पर विवाद बढ़ गया है। (फोटो सोर्स: पीटीआई)

राहुल गांधी द्वारा 70,000 रुपये का जैकेट पहनने पर शुरू हुआ विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है। इसको लेकर भाजपा के आरोपों को खारिज करने वालीं कांग्रेस की वरिष्ठ नेता रेणुका चौधरी खुद इसकी चपेट में आ गई हैं। रेणुका ने कहा कहा था कि वह यही जैकेट 700 रुपये में दिला सकती हैं। अब भाजपा के एक नेता ने रेणुका चौधरी को 700 रुपये भेजकर वही जैकेट भिजवाने का अनुरोध किया है। दिल्ली में भाजपा के प्रवक्ता तजिंदर सिंह बग्गा ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी है। उन्होंने लिखा, ‘मैंने रेणुका चौधरी को सात सौ रुपये भेज दिए हैं। आप मेरे तिलक नगर स्थित कार्यालय में वही जैकेट भिजवा दें।’ भाजपा नेता के ट्वीट पर लोगों ने भी चुटकी ली। मंजु चौहान ने लिखा, ‘एक हमारे लिए भी मंगवा दीजिए सर…इस बार दिल्ली आएंगे तो आपको 700 रुपये दे देंगे।’ अभिनंदन सिंह ने ट्वीट किया, ‘डिलीवरी चार्ज 70 रुपये अतिरिक्त भेज दीजिए वरना बहाना मिल जाएगा।’ वागिशा ने लिखा, ‘तजिंदर जी अपना साइज भी ई-मेल कर दीजिए, पता चला बच्चों का जैकेट भेज दिया।’ ब्रजेश चंद ने ट्वीट किया, ‘बग्गा जी अगर मिल जाए तो मुझे भी दे दीजिएगा। सात सौ रुपये में मुझ गरीब को अच्छा जैकेट मिल जाएगा।’

कांग्रस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मेघालय यात्रा के दौरान हजारों रुपये का जैकेट पहना था। इसकी कीमत को लेकर उनकी आलोचना होने लगी थी। इसके बाद कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कहा था कि यह जैकेट ‘उधार’ ली गई थी। दरअसल, राहुल गांधी मेघालय की राजधानी शिलांग गए हुए थे। यहां उन्होंने कांग्रेस द्वारा आयोजित एक म्यूजिक कंसर्ट में भी हिस्सा लिया था। मेघालय में विधानसभा चुनाव होने हैं, ऐसे में राहुल गांधी द्वारा कीमती जैकेट पहनने पर भाजपा ने सवाल उठाने शुरू कर दिए थे। मालूम हो कि राहुल गांधी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पोशाक को लेकर हमलावर रहे हैं। वह मोदी सरकार को ‘सूटबूट की सरकार’ तक करार दे चुके हैं।

बता दें कि मेघालय में 27 फरवरी को विधानसभा चुनाव होने हैं। पूर्वोत्तर राज्य के 60 सदस्यीय विधानसभा का कार्यकाल 6 मार्च को खत्म हो रहा है। सात फरवरी से नामांकन भरे जाएंगे, जबकि नाम वापस लेने की तिथि 12 फरवरी है। चुनाव आयोग द्वारा चुनाव की तिथि घोषित करने के साथ ही राजनीतिक दलों ने प्रचार अभियान भी शुरू कर दिया है। इसी सिलसिले में राहुल गांधी मेघालय पहुंचे थे। राज्य में सत्तारूढ़ कांग्रेस सत्ता में वापसी के प्रयास में जुटी है, वहीं भाजपा अपना पैर जमाने की कोशिश कर रही है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App