ताज़ा खबर
 
title-bar

जेटली और जयंत सिन्हा स्पाइस जेट को मदद करना छोड़ दें, वर्ना बीजेपी की होगी बदनामी, स्वामी ने पीएम को दी नसीहत

खबर है कि जेट एयरवेज की बाजार हिस्सेदारी पर कब्जा करने की होड़ में स्पाइस जेट सबसे आगे बताई जाती है।

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सांसद सुब्रमण्यम स्वामी।

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली और केंद्रीय राज्य मंत्री जयंत सिन्हा पर गंभीर आरोप लगाए हैं। गुरुवार (25 अप्रैल, 2019) को भाजपा नेता ने इस मामले में एक ट्वीट भी किया है। उन्होंने कहा, ‘मैं नमो (प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी) से अपील करता हूं कि वो अरुण जेटली और जयंत सिन्हा को जेट एयरवेज को स्पाइसजेट के हाथों बेचने के प्रयासों से बाज आने की हिदायत दें।’ ट्वीट में आगे लिखा गया कि इसमें पक्षपात और आधिकारिक पद के दुरुपयोग की बू आ रही है जो भाजपा की प्रतिष्ठआ को नुकसान पहुंचाएगी।

जानना चाहिए कि वित्तीय संकट से जूझ रही प्राइवेट विमान कंपनी जेट एयरवेज ने पिछली 17 मार्च से अपनी सभी उड़ाने बंद करने की घोषणा की थी। इसके स्लॉट अस्थाई रूप से दूसरी विमान कंपनियों को दे दिए गए थे। नौकरी से निकलने और वेतन नहीं मिलने के कारण कंपनी के कई पायलट, इंजीनियर और स्टाफ के अन्य कर्मचारी दूसरी विमान कंपनियों में नौकरी के लिए जा रहे हैं। जेट एयरवेज की बाजार हिस्सेदारी पर कब्जा करने की होड़ में स्पाइस जेट सबसे आगे बताई जाती है।

गौरतलब है कि भाजपा सांसद ने विमान कंपनी स्पाइस जेट के मामले में नागरिक उड्डयन मंत्री सुरेश प्रभु को भी अवगत कराया है। उन्होंने बुधवार रात प्रभु को पत्र लिखकर बताया कि स्पाइसजेट और विस्तारा जैसी निजी विमान सेवा कंपनियों द्वारा जेट एयरवेज की उड़ानें बंद होने का फायदा उठाने का प्रयास किया जा रहा है। पत्र में उन्होंने जेटली या सिन्हा का नाम नहीं लिया मगर लिखा कि मामले में मंत्रिमंडल के कुछ साथियों और अधिकारियों का समर्थन मिल रहा है। पत्र में लिखा गया कि इन लोगों के नाम वो व्यक्तिगत रूप से मुलाकात के बाद बता सकते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App