ताज़ा खबर
 

JEE परीक्षा देने वालों का राज्‍‍‍‍‍‍यवार प्रतिशत बताए सरकार- बीजेपी सांसद की मांग

स्वामी जेईई और नीट परीक्षाएं टलवाने के लगातार पक्षधर रहे हैं। हाल के दिनों में उन्होंने इस संबंध में पीएम आवास पर फोन भी किया था।

राज्यसभा सांसद और भाजपा नेता सुब्रमण्मय स्वामी। (पीटीआई)

अपनी तमाम कोशिशों के बावजूद JEE-NEET की परीक्षाएं टलवाने में नाकाम रहे राज्यसभा सांसद और भाजपा नेता सुब्रमण्मय स्वामी एक बार फिर सुर्खियों में हैं। उन्होंने मांग की है कि जीईई की परीक्षा में भाग लेने वाले छात्रों का राज्यवार प्रतिशत बताया जाए। उन्होंने कहा कि ये मांग इसलिए है क्योंकि मंत्रालय ने बताया था कि कितने फीसदी लोगों ने परीक्षा पास डाउलोड किए थे।

भाजपा ने गुरुवार (3 सितंबर, 2020) को ट्वीट कर कहा कि शिक्षा मंत्रालय को आधिकारिक तौर पर बताना चाहिए कि राज्यवार कितने फीसदी लोगों ने जेईई परीक्षा में भाग लिया। ताकी पता चल सके अगले सप्ताह होने वाली नीट परीक्षा में से कौन सी आसान है। ये मांग इसलिए की गई है कि क्योंकि शिक्षा मंत्रालय ने परीक्षा के लिए एंट्री पास डाउनलोड करने वाले छात्रों का प्रतिशत बताया था। पीएम मोदी को इसपर संज्ञान लेना चाहिए।

स्वामी जेईई और नीट परीक्षाएं टलवाने के लगातार पक्षधर रहे हैं। हाल के दिनों में उन्होंने इस संबंध में पीएम आवास पर फोन भी किया था। परीक्षा आयोजन से ठीक पहले 31 अगस्त को उन्होंने ट्वीट कर बताया कि आज सुबह मैंने नीट और जेईई परीक्षा टलवाने के लिए आखिरी बार कोशिश करने के लिए पीएम निवास पर फोन किया। कार्यालय के सचिव ने कहा कि वो मुझे दोबारा फोन करेगा। अगर परीक्षा टल जाती है तो मैं छात्रों को सूचित कर दूंगा। बता दें कि परीक्षाएं टालने के लिए उन्होंने एक बार तो यहां तक कह दिया था कि उनकी सरकार के लिए यह कांग्रेस के ‘नसबंदी’ जैसा मुद्दा बन जाएगा।

इधर भाजपा नेता के ट्वीट पर सोशल मीडिया यूजर्स भी जमकर प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं। ट्विटर यूजर नील @Neel_183 लिखते हैं, ‘पश्चिम बंगाल में 4652 उम्मीदवारों में महज 1167 ने परीक्षा दी। यानी सिर्फ 25 फीसदी छात्रों ने परीक्षा दी।’ राम सिंह @AdvRamSingh3 लिखते हैं, ‘सर प्लीज पीएम मोदी को फोन कर नीट परीक्षा टलवाने के लिए कहिए जो 13 सितंबर को होनी है। प्लीज हम 16 लाख छात्रों को बचा लीजिए। हम आपसे भीख मांगते हैं। कोविड-19 अपने चरम पर है।’

इसी तरह आशना @_aesthetic_A लिखती हैं, ‘सर आप हमें शुभकामनाएं ही दे दें, यही बहुत है।’ बालाजी @Balaji91238395 लिखते हैं, ‘जेईई और नीट परीक्षा कोरोना मामलों की संख्या दिन प्रति दिन बढ़ने के चलते स्थगित की जानी चाहिए। बहुत से छात्रों की जिंदगी खतरे में है। एसओपी का ठीक से पालन भी नहीं किया जा राह है। सरकार को इस मामले में सही फैसला लेना चाहिए।’ चंचल @ChanchalChirom1 लिखती हैं, ‘कोरोना संक्रमण में प्रतिदिन रिकॉर्ड तोड़ बढ़ोतरी हो रही है। अभी भी देर नहीं हुई है, दृढ़ संकल्प लेकर बहुत से जिंदगी बचाई जा सकती है। परीक्षाएं स्थगित करें।’

Next Stories
1 बीजेपी विधायक को फेसबुक ने किया बैन, WSJ की रिपोर्ट में पक्षपात के आरोप के बाद एक्‍शन
2 ‘जय श्रीराम कहना सांप्रदायिक है?’ संसदीय समिति ने फेसबुक इंडिया हेड से पूछे ऐसे ही 100 सवाल, सात दिन में देना होगा जवाब
3 दावा: डोनाल्ड ट्रम्प जैसा है नीतीश का डिजिटल प्लेटफॉर्म, टू-वे VC की सुविधा, सर्वे भी इसी से कराने का प्लान
ये पढ़ा क्या?
X