ताज़ा खबर
 

त्रिची में BJP नेता की बीच बाजार हत्या, धारदार हथियार से हमला कर भाग निकले बदमाश

तमिलनाडु पुलिस ने बताया कि विजय रघु पलाकरई में पार्टी के मंडल सचिव थे। उन्होंने बताया कि अपराधियों की पहचान और उन्हें पकड़ने के लिए सीसीटीवी फुटेज खंगाली जा रही है। साथ ही बताया कि इस संबंध में एक मामला दर्ज कर लिया गया है।

(फाइल फोटो)

तमिलनाडु में एक बीजेपी नेता की हत्या का मामला सामने आया है। मृतक की पहचान 40 वर्षीय विजय रघु के रूप में हुई है। प्राप्त जानकारी के मुताबिक उन्हें अज्ञात बदमाशों ने धारदार हथियार से हमला कर मौत के घाट उतार दिया। बाजार में काम से गए रघु को बदमाशों के एक समूह ने घेर लिया और सरेआम मर्डर की वारदात को अंजाम देकर भाग निकले। फिलहाल पुलिस हत्यारों को पकड़ने की कोशिश कर रही है, अभी हत्या की वजह भी साफ नहीं हो पाई है।

CCTV फुटेज खंगाल रही पुलिसः तमिलनाडु पुलिस ने बताया कि विजय रघु पलाकरई में पार्टी के मंडल सचिव थे। उन्होंने बताया कि अपराधियों की पहचान और उन्हें पकड़ने के लिए सीसीटीवी फुटेज खंगाली जा रही है। साथ ही बताया कि इस संबंध में एक मामला दर्ज कर लिया गया है।

Hindi News Live Hindi Samachar 27 January 2020: देश-दुनिया की तमाम बड़ी खबरे पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

रघु ने वापस ली थी मोबाइल चोरी की शिकायतः एएनआई के मुताबिक इस वारदात को त्रिची के बाजार में सोमवार (27 जनवरी) को अंजाम दिया गया। यह वारदात अलसुबह करीब साढ़े 5 बजे की बताई जा रही है। गांधी नगर पुलिस ने हत्या का मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। गौरतलब है कि हत्या से पहले रघु ने गांधी नगर पुलिस को एक मुकदमा दर्ज करवाया था, जिसमें उन्होंने मोबाइल चोरी होने की बात कही थी, हालांकि बाद में उन्होंने यह मुकदमा वापस ले लिया।

हत्या का मकसद भी साफ नहींः पुलिस मामले की जांच में जुटी है। अभी यह स्पष्ट नहीं है कि इस वारदात को किसी व्यक्तिगत साजिश के चलते अंजाम दिया गया या इसके पीछे रजनीतिक रंजिश है। यह भी संदेह है कि वारदात को लूट के इरादे से अंजाम दिया गया हो। फिलहाल पुलिस रिपोर्ट सामने आने तक कुछ भी कह पाना संभव नहीं है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 हाथ से मैला साफ करने के मामले में फेल हुआ स्वच्छ भारत मिशन!, चार साल में 282 लोगों ने गंवाई जान
2 एनपीआर पर रोक लगाने से सुप्रीम कोर्ट का इनकार, जनहित याचिकाओं की सुनवाई पर केंद्र को नोटिस
3 ‘शाहीन बाग में टुकड़े-टुकड़े गैंग रहता है’, केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद बोले- आपत्ति की एक भी धारा नहीं बता रहे प्रदर्शनकारी
ये पढ़ा क्या?
X