scorecardresearch

भव‍िष्‍य में भगवा हो सकता है भारत का राष्‍ट्रीय ध्‍वज- बोले कर्नाटक के बीजेपी नेता, भाजपा सांसद ने कहा- ह‍िजाब इस्‍लाम का जरूरी ह‍िस्‍सा नहीं

कहा, ‘‘देश में आज हिंदू विचार और हिंदुत्व की चर्चा हो रही है। एक समय लोग हंसते थे जब हम कहते थे कि अयोध्या में राम मंदिर बनेगा, क्या हम इसे अभी नहीं बना रहे हैं?

भव‍िष्‍य में भगवा हो सकता है भारत का राष्‍ट्रीय ध्‍वज- बोले कर्नाटक के बीजेपी नेता, भाजपा सांसद ने कहा- ह‍िजाब इस्‍लाम का जरूरी ह‍िस्‍सा नहीं
भाजपा के वरिष्ठ नेता और कर्नाटक के ग्रामीण विकास और पंचायत राज मंत्री केएस ईश्वरप्पा।

देश में हिजाब पहनने को लेकर चल रहे विवाद का हल निकलने के बजाए इस पर टकराव बढ़ता जा रहा है। राजनेताओं के साथ-साथ कई अन्य लोग भी इसको लेकर अपनी-अपनी राय पक्ष और विपक्ष में दे रहे हैं। इस बीच भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता और कर्नाटक के ग्रामीण विकास एवं पंचायत राज मंत्री के एस ईश्वरप्पा ने बुधवार को दावा किया कि भगवा झंडा भविष्य में कभी राष्ट्रीय ध्वज बन सकता है। हालांकि, उन्होंने कहा कि तिरंगा अभी राष्ट्रीय ध्वज है और इसका सभी को सम्मान करना चाहिए। दूसरी तरफ भाजपा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा कि यदि आप मुझे दिखाते हैं कि हिजाब इस्लामी धर्म का एक अनिवार्य हिस्सा है, तो मैं यह कहने वाला पहला व्यक्ति होऊंगा, “उन्हें हिजाब पहनने दो।”

ईश्वरप्पा ने कहा, ‘‘सैकड़ों साल पहले श्री रामचंद्र और मारुति के रथों पर भगवा झंडे थे। क्या तब हमारे देश में तिरंगा झंडा था? अब यह (तिरंगा) हमारे राष्ट्रीय ध्वज के रूप में निर्धारित है। इस देश का भोजन ग्रहण करने वाले प्रत्येक व्यक्ति को इसका सम्मान करना चाहिए। इस पर कोई सवाल ही नहीं उठता है।’’

पत्रकारों के एक सवाल पर कि क्या लाल किले पर भगवा झंडा फहराया जा सकता है, उन्होंने कहा, ‘‘आज नहीं, भविष्य में किसी दिन।’’ उन्होंने कहा, ‘‘देश में आज हिंदू विचार और हिंदुत्व की चर्चा हो रही है। एक समय लोग हंसते थे जब हम कहते थे कि अयोध्या में राम मंदिर बनेगा, क्या हम इसे अभी नहीं बना रहे हैं?

इसी प्रकार भविष्य में किसी समय 100 या 200 अथवा 500 वर्षों के बाद भगवा ध्वज राष्ट्रीय ध्वज बन सकता है। मुझे नहीं पता।’’ भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि अब तिरंगे को संवैधानिक रूप से राष्ट्रीय ध्वज के रूप में स्वीकार कर लिया गया है। मंत्री ने कहा कि इसका सम्मान किया जाना चाहिए और जो इसका सम्मान नहीं करते हैं वे देशद्रोही होंगे।

ईश्वरप्पा प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डी के शिवकुमार के दावों का जवाब दे रहे थे कि छात्रों ने मंगलवार को हिजाब के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान शिवमोगा के एक कॉलेज में तिरंगा की जगह भगवा झंडा फहराया। शिवकुमार के दावों को ‘झूठा’ बताते हुए ईश्वरप्पा ने इसे हिंदुओं और मुसलमानों के बीच विभाजन पैदा करने का प्रयास बताया।

पढें राष्ट्रीय (National News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 09-02-2022 at 11:24:31 pm
अपडेट