एमपीः कोविड प्रोटोकॉल के तहत पुलिस ने बीजेपी नेता की बेटी को पकड़ा तो किया हंगामा, देखें VIDEO

मध्यप्रदेश के सीधी में एक भाजपा नेता की बेटी को जब पुलिसकर्मियों ने बिना मास्क के सड़क पर गाडी चलाते पकड़ लिया तो युवती ने सड़क पर ही हंगामा शुरू कर दिया।

mask, coronavirusतस्वीर का इस्तेमाल प्रतीकात्मक तौर पर किया गया है। (Pixabay.com)

देशभर में कोरोना के मामले काफी तेजी से बढ़ रहे हैं। कई राज्यों में कोरोना बेकाबू हो चुका है. लेकिन इसके बावजूद भी कई लोग कोरोना गाइडलाइन का पालन नहीं कर रहे हैं। मध्यप्रदेश के सीधी में एक भाजपा नेता की बेटी को जब पुलिसकर्मियों ने बिना मास्क के सड़क पर गाडी चलाते पकड़ लिया तो युवती ने सड़क पर ही हंगामा शुरू कर दिया।

दरअसल मध्यप्रदेश के सीधी जिले के जमोड़ी बस स्टैंड के पास पुलिस कोरोना गाइडलाइन का उल्लंघन करने वालों का चालान कर रही थी। तभी एक कार पुलिस के सामने से गुजरी। कार चला रही युवती ने मास्क भी नहीं पहन रखा था। जिसके बाद पुलिस ने कोरोना प्रोटोकॉल का उल्लंघन करने पर युवती के खिलाफ चालान करना शुरू कर दिया। चालान कटते देख युवती ने अपनी मां को वहां बुला लिया और हंगामा करना शुरू कर दिया। इस दौरान युवती ने पुलिस को जमकर खरी खोटी सुनाई।

प्राप्त जानकारी के अनुसार हंगामा करने वाली युवती स्थानीय भाजपा नेता की बेटी थी। युवती के पिता सीधी जिले के भाजपा किसान मोर्चा के पदाधिकारी हैं। कहा जा रहा है कि युवती इलाहबाद में रहकर डांस क्लास चलाती है। हालांकि काफी देर तक हंगामा होने के बाद पुलिस ने छह सौ रूपयों का चालान काटकर अपनी जान छुड़ाई। इसके बावजूद भी युवती और उसकी मां ने पुलिसकर्मियों के साथ अभद्र व्यवहार किया। कहा यह भी जा रहा है कि युवती की कार के शीशों पर काली फिल्म भी लगी थी जो आरटीओ के नियमों का उल्लंघन है।

हालांकि हंगामा होने के बाद युवती ने मीडियाकर्मियों के साथ बातचीत भी की। युवती ने कहा कि मेरे पास काली फिल्म की परमिशन है, जिसकी कॉपी मैं मंगवा रही हूं। आगे युवती ने कहा कि पुलिस का ईगो हर्ट हो गया है इसलिए जुर्माना कर रही है। साथ ही युवती ने कहा कि कार पर यूपी का नंबर होने की वजह से पुलिस ने जानबूझ कर परेशान किया। हालांकि मास्क को लेकर युवती ने कहा कि मेर मास्क घर पर ही रह गया है।

राज्य में रविवार को 12,248 मरीज सामने आए। जबकि भोपाल में 1,679 नए मरीज मिले। वहीं 66 लोगों की मौत इस महामारी की वजह से हो गई।

Next Stories
1 कोरोना से पार पाने को उद्योगों की सप्लाई ठप, 22 अप्रैल से केवल इन 9 सेक्टर्स को मिलेगी ऑक्सीजन
2 कोरोना संकट पर बोले पैनलिस्ट- नेता चुनाव ही लड़ते रहेंगे तो प्रशासन कौन चलाएगा?
3 बीजेपी प्रवक्ता ने दिए बेतुके तर्क तो बोले एंकर, हम घर की आग तब बुझाने चले जब लग चुकी है आग
ये पढ़ा क्या?
X