ताज़ा खबर
 

बंगाल में नई राजनीति? कांग्रेस प्रवक्ता की गिरफ्तारी के खिलाफ उतरी बीजेपी, समर्थन देने घर पहुंचे नेता

कांग्रेस नेता की गिरफ्तारी के बाद बीजेपी ने इसे ममता सरकार जुल्म बताया है और कहा कि प्रदेश सरकार लोकतांत्रिक मूल्यों पर कुठाराघात कर रही है।

पश्चिम बंगाल के बीजेपी अध्यक्ष दिलीप घोष (फाइल फोटो सोर्स: द इंडियन एक्सप्रेस)

वैसे तो भारतीय जनता पार्टी राष्ट्रीय फलक पर देश को ‘कांग्रेस मुक्त’ बनाने का नारा देती है। लेकिन, दूसरी तरफ पश्चिम बंगाल में कांग्रेस नेता के पक्ष में टीएमसी सरकार के खिलाफ दो-दो हाथ करने से भी नहीं गुरेज कर रही। इस पश्चिम बंगाल में बीजेपी की नई रणनीति का हिस्सा ही मानेंगे कि पार्टी कांग्रेस प्रवक्ता की गिरफ्तारी के खिलाफ उनके समर्थन में उतर आई है। शुक्रवार को बीजेपी नेताओं की एक टीम ने कांग्रेस प्रवक्ता सनमोय बनर्जी के घर बोलपुर स्थित अगरपाड़ा पहुंची और अपना समर्थन देने की बात कही।

‘द टेलिग्राफ’ की रिपोर्ट के मुताबिक कांग्रेस प्रवक्ता बनर्जी को सोशल मीडिया पर पश्चिम बंगाल सरकार और प्रदेश की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के खिलाफआपत्तिजनक टिप्पणी लिखने पर गिरफ्तार किया गया। बीजेपी ने इसे लोकतंत्र पर कुठाराघात बताया और पार्टी के नेता उनके घर जाकर इस मुद्दे पर साथ देने की बात कही। पश्चिम बंगाल के बीजेपी अध्यक्ष दिलीप घोष ने टेलिग्राफ को बताया,”हमने अपने नेताओं को सनमोय बनर्जी के घर एकता दर्शाने के लिए भेजा था, क्योंकि वह तृणमूल सरकार की असहिष्णुता के पीड़ित हैं। यदि सनमोय को गिरफ्तार किया जा सकता है, तो सरकार की आलोचना करने पर किसी को भी गिरफ्तार किया जा सकता है।”

बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष ने ममता सरकार से जल्द से जल्द कांग्रेस नेता सेन की रिहाई की मांग की। कांग्रेस नेता के घर जाने वाले नेताओं के दल का प्रतिनिधित्व प्रदेश के उपाध्यक्ष जोयप्रकाश मजूमदार ने किया। बीजेपी नेताओं के सनमोय बनर्जी के घर जाने के बाद तृणमूल कांग्रेस ने भी आक्रामक हमला बोला। पार्टी का कहना है कि बीजेपी और कांग्रेस दोनों मिलकर प्रदेश सरकार की छवि को खराब करने की कोशिश कर रहे हैं।

द टेलिग्राफ की रिपोर्ट में तृणमूल नेता निर्मल घोष ने कहा है, “यह सिद्ध हो चुका है कि कांग्रेस और बीजेपी ने सीपीएम के साथ मिलकर सांठगांठ किया है। सनमोय के खिलाफ शिकायत लंबित था। लिहाजा, पुलिस ने उनके खिलाफ कार्रवाई की। तीनों दलों ने फैसला किया है कि वे साथ मिलकर प्रदेश सरकार की छवि को नुकसान पहुंचाएंगे।” गौरतलब है कि सनमोय बनर्जी चार बार पानीहाटी से काउंसलर रह चुके हैं और 2016 में उन्होंने कांग्रेस के टिकट से चुनाव जीता है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 ‘विदेशी महिला से दूसरी शादी करने वालों को मिल रहा नोबेल पुरस्कार’, अभिजीत बनर्जी पर बीजेपी के राष्ट्रीय सचिव की राय
2 IRCTC INDIAN RAILWAYS पहली बार दे रहा यात्रियों को मुआवजा, जानें कैसे मिलेंगे 250 रुपये
3 “लाशों के भी होते हैं अधिकार, परिजन मुआवजे या अपनी मांग मनवाने के लिए अगर नहीं करे अंतिम संस्कार तो करा दे सरकार”
  यह पढ़ा क्या?
X