JNU ROW: केजरीवाल बोले- देश के खिलाफ नारे लगाने वालों को बचाने वाली बीजेपी सबसे बड़ी राष्‍ट्रविरोधी

9 फरवरी को जेएनयू कैम्पस में हुई कथित नारेबाजी के मामले में यूनिवर्सिटी की जांच में स्टूडेंट्स को सिर्फ आदेश न मानने का दोषी पाया गया है।

AAP MLA, Pankaj Pushkar, Arvind Kejriwal, Delhi Govt, Delhi
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (फाइल फोटो)

दिल्‍ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने बीजेपी को ‘सबसे बड़ा राष्‍ट्र विरोधी’ करार दिया है। उन्‍होंने आरोप लगाया बीजेपी उन लोगों को बचा रही है, जिन्‍होंने जेएनयू कैंपस में देश विरोध नारे लगाए थे। अरविंद केजरीवाल का यह ट्वीट ऐसे समय पर आया है, जब जेएनयू पैनल की रिपोर्ट में यह बात सामने आई है कि कैंपस में भड़काऊ नारेबाजी बाहरी लोगों ने की थी। कुछ समय पहले अरविंद केजरीवाल ने अपने खिलाफ देशद्रोह का मामला दर्ज किए जाने के बाद कहा था कि वह पीएम नरेंद्र मोदी से भी बड़ी राष्‍ट्रभक्‍त हैं। केजरीवाल का यह भी आरोप है कि बीजेपी देशविरोधी नारे लगाने वालों को इसिलए गिरफ्तार नहीं करना चाहती है, क्‍योंकि इससे पीडीपी नाराज हो जाएगी। दिल्‍ली के सीएम का यह भी दावा है कि जेएनयू कैंपस में नारेबाजी करने वाले कश्‍मीरी थे।

आपको बता दें कि 9 फरवरी को जेएनयू कैम्पस में हुई कथित नारेबाजी के मामले में यूनिवर्सिटी की जांच में स्टूडेंट्स को सिर्फ आदेश न मानने का दोषी पाया गया है। पैनल की रिपोर्ट में कहा गया है कि संसद पर हमले के दोषी अफजल गुरु की बरसी का प्रोग्राम मनाने के बारे में यूनिवर्सिटी एडमिनिस्ट्रेशन को जानबूझकर अंधेरे में रखा गया था। इस मामले में यूनिवर्सिटी ने 21 स्टूडेंट्स को नोटिस भेजा था। कन्हैया कुमार और उमर खालिद समेत पांच स्टूडेंट्स से नोटिस में पूछा गया है कि क्यों न ऑर्डर नहीं मानने की वजह से उन्हें यूनिवर्सिटी से निकाल दिया जाए?

Read Also: JNU प्रोफेसर और कन्‍हैया कुमार के खिलाफ BJYM ने पुलिस में दी शिकायत, भड़काऊ भाषण देने का आरोप

अपडेट