BJP की आमदनी 50% बढ़ी, आपकी? राहुल गांधी ने पूछा सवाल, लोगों ने दिए ऐसे जवाब

राहुल ने यह सवाल उस खबर का स्क्रीनशॉट शेयर करते हुए उठाया था, जिसमें एडीआर रिपोर्ट के हवाले से बताया गया था कि साल 2019-20 में बीजेपी की आय में 50 प्रतिशत की वृद्धि हुई, जबकि ढेर सारा चंदा चुनावी बॉन्ड्स के जरिए आया।

rahul, bjp, india news
कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी चीफ जेपी नड्डा। (फाइल फोटोः इंडियन एक्सप्रेस/पीटीआई)

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार (28 अगस्त, 2021) को भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) पर निशाना साधा। उन्होंने एक ट्वीट के जरिए पूछा कि बीजेपी की आमदनी 50 फीसदी बढ़ी, पर आपकी (जनता) में कितना इजाफा हुआ?

राहुल ने यह सवाल उस खबर का स्क्रीनशॉट शेयर करते हुए उठाया था, जिसमें एडीआर रिपोर्ट के हवाले से बताया गया था कि साल 2019-20 में बीजेपी की आय में 50 प्रतिशत की वृद्धि हुई, जबकि ढेर सारा चंदा चुनावी बॉन्ड्स के जरिए आया। एडीआर की इस नई रिपोर्ट में कहा गया कि बीजेपी ने अपनी कुल आय 3,623.28 करोड़ रुपए बताई।

@VineetPunia ने कहा, “कोरोना में देशवासियों की आय घटी; पहली लहर में ही 23 करोड़ लोग ग़रीबी रेखा से नीचे चले गए पर भाजपा और उसके चंद अरबपति मित्रों की आय तेज़ी से बढ़ रही है।”

@itsmeriya123 ने लिखा, “राहुल, मोदी के समक्ष बेरोजगारी का मुद्दा उठाते है। ये अच्छा है, क्योंकि राहुल को यकीन है कि जिस प्रकार मोदी ने जन विकास द्वारा नागरिकों को बिजली, सड़क, मकान आदि प्रदान कर कांग्रेस को मुद्दा विहीन कर दिया है। बेरोजगारी का हल भी मोदी निकाल देंगे क्योंकि “मोदी है तो मुमकिन है”।”

@EducatedOf ने आगे कहा, “हमें तो नौकरी ही नहीं मिल रही। भाजपा हटाओ, व्यवस्था बचाओ।” @sane_indian ने लिखा, “पेट्रोल की कीमतें 40 फीसदी तक बढ़ीं। एलपीजी 100 प्रतिशत महंगा हो गई। ये 2014 से आए अच्छे दिन हैं।”

@Mehboobp1 के हैंडल से कहा गया, “हमारा सारा पैसा नरेंद्र मोदी ने अपने मित्रों को दे दिया। मोदी के दो-तीन मित्र अमीर से और अमीर बन गए हैं। आम जनता गरीब से और गरीब। यही हैं अच्छे दिन।” @anjuchopra73 ने लिखा, “आप और आपकी मां की आय 100 गुणी बढ़ी और आपके जीजा (रॉबर्ट वाड्रा) का क्या, जिनके पास कारोबार शुरू करने के लिए एक लाख रुपए भी नहीं थे और आज वह सैकड़ों करोड़ रुपए की संपत्ति के मालिक हैं। बात तो ऐसे कर रहे हैं, जैसे सबसे ईमानदार परिवार आपका ही है।”

क्या है एडीआर रिपोर्ट में?: विभिन्न सियासी दलों ने 2019-20 में 3,429.56 करोड़ रूपये के चुनावी बांड भुनाए, जिसमें चार दलों (भारतीय जनता पार्टी, कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी) को 87.29 प्रतिशत राशि प्राप्त हुई है। चुनाव अधिकारों से जुड़ी संस्था एसोसिएशन फार डेमोक्रेटिक रिफार्म्स (एडीआर) की रिपोर्ट में यह बात कही गई है। रिपोर्ट में कहा गया है कि वित्त वर्ष 2019-20 में भाजपा ने 3623.28 करोड़ रूपये के कुल आय की घोषणा की लेकिन पार्टी ने 45.57 प्रतिशत अर्थात 1651.02 करोड़ रूपये ही खर्च किया।

इसमें आगे कहा गया है कि कांग्रेस पार्टी इस वित्त वर्ष में कुल आय 682.21 करोड़ रूपये रहा और उसने 998.15 करोड़ रूपये खर्च किए । इस तरह से कांग्रेस पार्टी ने आय से 46.31 प्रतिशत अधिक खर्च किया। तृणमूल कांग्रेस ने वित्त वर्ष 2019-20 में 143.67 करोड़ रूपये आय अर्जित की और 107.27 करोड़ रूपये खर्च किये जो कुल आय का 74.67 प्रतिशत है।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट