ताज़ा खबर
 

असम चुनावः भाजपा ने जारी की उम्मीदवारों की लिस्ट, हेमंत बिस्वशर्मा भी लड़ेंगे चुनाव

असम की कुल 126 विधानसभा सीटों में से 92 सीट पर भाजपा चुनाव लड़ेगी वहीँ बाकी की बची सीटों को सहयोगी दलों के बीच बांटा गया है। 

assam , bjp , assembly electionsअसम चुनाव के लिए उम्मीदवारों के नाम की घोषणा करते भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव अरुण सिंह (फोटो – पीटीआई)

भारतीय जनता पार्टी ने असम विधानसभा चुनाव के लिए 70 सीटों पर उम्मीदवारों के नाम का ऐलान कर दिया है। मुख्यमंत्री सर्वानन्द सोनोवाल माजुली सीट से और कद्दावर मंत्री हेमंत बिस्वा शर्मा जालुकबरी सीट से चुनाव लड़ेंगे। हालाँकि पिछली बार भी दोनों इन्हीं सीटों से उम्मीदवार थे। इस बार के चुनाव में भाजपा ने अपने 11 मौजूदा विधायकों को टिकट नहीं दिया है। असम भाजपा के अध्यक्ष रंजीत दास को पठारझालुकुड़ी से टिकट दिया गया है।

कल गुरुवार को दिल्ली में भाजपा कार्यालय में पीएम मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और अध्यक्ष जे पी नड्डा की मौजूदगी में पार्टी उम्मीदवारों के नाम पर फैसला लिया गया। हालाँकि अभी भी 22 सीटों पर उम्मीदवारों के नाम की घोषणा नहीं की गयी है। असम की कुल 126 विधानसभा सीटों में से 92 सीट पर भाजपा चुनाव लड़ेगी वहीँ बाकी की बची सीटों को सहयोगी दलों के बीच बांटा गया है। 

भाजपा ने पहले और दूसरे चरण के लिए 70 उम्मीदवारों के नाम की घोषणा कर दी है। इस चुनाव में भाजपा ने दो मुस्लिम उम्मीदवारों को भी टिकट दिया है। जारी किए गए लिस्ट के अनुसार नजीर हुसैन को रूपोहिहाट से और अमिनुल हक़ लश्कर को सोनाई से टिकट दिया गया है। बता दूँ कि असम में तीन चरण में विधानसभा चुनाव होने को हैं। पहले चरण का मतदान 27 मार्च को है। दूसरे चरण का मतदान एक अप्रैल को और तीसरे चरण के लिए वोटिंग छह अप्रैल को होगी। वहीँ मतगणना की तारीख दो मई को तय की गयी है।   

बीतें दिनों असम में बीजेपी के असम गण परिषद और यूपीपीएल समेत अन्य दलों के साथ गठबंधन और सीटों के बंटवारे पर मुहर लग गई थी। इस बार बीजेपी असम में 92 सीटों पर चुनाव लड़ेगी, जबकि असम गण परिषद 26 और यूपीपीएल 8 सीटों पर चुनाव लड़ेगी। यूपीपीएल हाल ही में भाजपा गठबंधन का हिस्सा बनी है।

2016 में हुए विधानसभा चुनाव में भाजपा ने 84 सीटों पर अपने उम्मीदवार खड़े किये थे जिसमें से 60 सीटों पर जीत मिली थी। तब भाजपा, असम गण परिषद् और बोडोलैंड पीपुल्स फ्रंट ने साथ मिल कर चुनाव लड़ा था। हालाँकि इस बार के चुनाव में बोडोलैंड पीपुल्स फ्रंट ने कांग्रेस और एआईयूडीएफ के साथ गठबंधन किया है।

Next Stories
1 बंगाल चुनावः मोदी का मेगाशो, छावनी में तब्दील हो जाएगा कोलकाता, चल रही जबरदस्त तैयारी
2 क्या बिहार में लागू हुआ योगी का ‘ठोको मॉडल’? जेडीयू प्रवक्ता बोले- पुलिस अपराधियों की गोली खाने नहीं बैठी है
3 ‘गोली मारो’ नारे पर भाजपा कार्यकर्ताओं को करवाया गिरफ्तार, ममता बनर्जी ने पूर्व IPS को दिया टिकट का गिफ्ट
ये पढ़ा क्या?
X