ताज़ा खबर
 

BJP ने गृह मंत्री से की आप सरकार की शिकायत

दिल्ली के भाजपा विधायकों ने केजरीवाल सरकार की ओर से किए जा रहे संवैधानिक व्यवस्थाओं और नियमों के उल्लंघनों के बारे में शुक्रवार को केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह को बताया।

Author नई दिल्ली | March 5, 2016 03:27 am
आम आदमी पार्टी के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल।

दिल्ली के भाजपा विधायकों ने केजरीवाल सरकार की ओर से किए जा रहे संवैधानिक व्यवस्थाओं और नियमों के उल्लंघनों के बारे में शुक्रवार को केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह को बताया।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री, उपमुख्यमंत्री, अन्य मंत्री और विधानसभा के अध्यक्ष भारत के संविधान के प्रावधानों और दिल्ली सरकार के निर्धारित नियमों का जान-बूझकर उल्लंघन कर रहे हैं। विपक्ष के नेता विजेंद्र गुप्ता और भाजपा विधायक ओम प्रकाश शर्मा व जगदीश प्रधान ने गृह मंत्री को इस बाबत एक पत्र भी सौंपा। गुप्ता ने राजनाथ सिंह से कहा कि संविधान दिल्ली में संवैधानिक प्राधिकारियों की भूमिका और अधिकारों का स्पष्ट उल्लेख करता है, लेकिन दिल्ली सरकार ने जान-बूझकर इसे नजरअंदाज कर रही है।

पत्र में कहा गया है कि केजरीवाल सरकार की खींचतान के कारण दिल्ली विधानसभा की ओर से पारित 16 बिल लटके हुए हैं क्योंकि इनके लिए संबंधित प्राधिकारी से पूर्वानुमति नहीं ली गई है। दिल्ली शहरी आश्रय सुधार बोर्ड, नेताजी सुभाष विश्वविद्यालय, दिल्ली विधायकों की अयोग्यता हटाने संबंधी बिल, दिल्ली शिक्षा बिल, दिल्ली कामकाजी पत्रकार प्रावधान अधिनियम, न्यूनतम वेतन बिल इत्यादि अभी भी लागू नहीं हो पाए हैं।

अगर इन्हें अदालत में चुनौती दी जाए तो ये सभी बिल रद्द कर दिए जाएंगे क्योंकि इनके लिए निर्धारित संवैधानिक प्रक्रिया नहीं अपनाई गई। विपक्ष के नेता के अनुसार, उपराज्यपाल की पूर्वानुमति के बिना 52 अधिसूचनाएं जारी की जा चुकी हैं। इनमें से कई प्रशासनिक दृष्टि से बेहद संवेदनशील और महत्त्वपूर्ण हैं। इन्हें भी अदालत की ओर से रद्द किया जा सकता है। ऐसी स्थिति में प्रशासनिक दृष्टि से बहुत बड़ी समस्या खड़ी हो जाएगी ।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App