ताज़ा खबर
 

‘तमंचा डांस’ कर निलंबित बीजेपी MLA पर फिर गिरी गाज, छह साल के लिए पार्टी ने किया बाहर

घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद उस पर खूब विवाद हुआ था, जबकि निलंबित विधायक ने उस क्लिप को डॉक्टर्ड बताया था। दावा किया था कि उन्हें बदनाम करने की कोशिश की जा रही है।

Author नई दिल्ली | July 17, 2019 4:56 PM
बीजेपी विधायक चैंपियन पहले से ही निलंबित चल रहे थे। (फाइल फोटो)

तमंचे और बंदूकों के साथ डांस करने पर निलंबित किए गए उत्तराखंड से बीजेपी विधायक कुंवर प्रणव सिंह चैंपियन की मुश्किलें बढ़ गई हैं। बुधवार (17 जुलाई, 2019) को उन्हें भगवा पार्टी ने छह साल के लिए निष्कासित कर दिया। बीजेपी के मीडिया प्रभारी और राज्यसभा सदस्य अनिल बलूनी ने इस बारे में मीडिया से कहा कि पार्टी ने विधायक के कई बार सार्वजनिक दुर्व्यवहार पर संज्ञान लेते हुए उन्हें छह साल के लिए पार्टी से निष्कासित किया है।

इससे पहले, विवादित वीडियो सामने आने पर राज्य के नेताओं ने चैंपियन को कारण बताओ नोटिस जारी किया था। बलूनी के मुताबिक, इससे पहले के कथित खराब आचरण की घटनाओं को लेकर बीजेपी उन्हें पहले ही निलंबित कर चुकी थी।

दरअसल, हाल ही में विधायक एक वीडियो सामने आया था, जिसमें एक पार्टी के दौरान वह तमंचे, बंदूकों और शराब के साथ डांस करते दिखे थे। घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद खूब विवाद हुआ था। वहीं, निलंबित विधायक ने सफाई में उस क्लिप को डॉक्टर्ड बताया था और दावा किया था कि उन्हें बदनाम करने की साजिश रची गई है।

वीडियो वायरल होने पर उत्तराखंड बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ने विधायक के इस सलूक की कड़ी निंदा की थी और कहा था कि पार्टी उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई करेगी। उनकी तरफ से इसके अलावा 10 दिनों के भीतर विधायक से घटना पर जवाब भी मांगा गया था।

वायरल वीडियो में प्रणव तमंचे लहराने और डांस करने के साथ शराब भी पीते नजर आ रहे थे, जबकि कमरे में मौजूद अन्य लोग भी उनके साथ नाच रहे थे। बीजेपी उत्तराखंड मीडिया प्रभारी देवेंद्र भसीन के मुताबिक, जून में एक अन्य पार्टी विधायक के साथ विवाद और पत्रकार के साथ बदसलूकी की शिकायत पर उन्हें बीजेपी की स्थाई सदस्यता से तीन माह के लिए निलंबित कर दिया गया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App