ताज़ा खबर
 

थरूर ने किया बाबा भोले का अपमान, ‘शिवभक्त राहुल’ मांगें माफी- बोले रविशंकर

उन्होंने पत्रकारों से कहा,‘‘पूरा देश देख रहा है...राहुल गांधी खुद को शिवभक्त बताते हैं, लेकिन उनकी पार्टी के नेता ने चप्पल से मारने का जिक्र करके शिवलिंग की पवित्रता को अमर्यादित किया है। कृपया भगवान महादेव के घोर अपमान पर जवाब दें।’’

Author October 28, 2018 9:24 PM
केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद। (फोटोः पीटीआई)

भाजपा ने कांग्रेस के नेता शशि थरूर पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और शिवलिंग को लेकर दिये उनके बयान के लिए रविवार को निशाना साधा और पूछा कि क्या कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी अपनी पार्टी नेता के बयान का समर्थन करते है। पार्टी ने कहा कि यदि राहुल गांधी अपनी पार्टी के सांसद थरूर द्वारा दिये गये बयानों का समर्थन नहीं करते है, तो उन्हें हिन्दुओं से माफी मांगनी चाहिए।

थरूर ने कथित तौर पर दावा किया था कि आरएसएस के एक अज्ञात स्रोत ने एक पत्रकार से कहा था कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी शिवलिंग पर बैठे उस बिच्छू की तरह हैं, जिसे न तो हाथ से हटाया जा सकता है और न ही चप्पल से मारा जा सकता है।

भाजपा नेता और केन्द्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने यहां कहा,‘‘कांग्रेस महात्मा गांधी, जवाहरलाल नेहरू और इंदिरा गांधी की विरासत का प्रतिनिधित्व करने का दावा करती है। आज राहुल गांधी की अध्यक्षता में यह अपशब्द कहने और बहस के निम्नतम स्तर पर चली गई है।’’ उन्होंने कहा कि हालांकि वह थरूर के बयान पर प्रतिक्रिया व्यक्त नहीं करना चाहेंगे, लेकिन वह शिवभक्त होने का दावा करने वाले राहुल गांधी से इस मुद्दे पर उनका रूख जानना चाहेंगे।

प्रसाद ने कहा,‘‘ राहुल गांधी शिवभक्त होने का दावा करते हैं, अब उन्हें यह स्पष्ट करना चाहिए कि क्या वह थरूर के बयान का समर्थन करते है जिन्होंने भगवान शिव का अपमान किया है। यदि वह बयान का समर्थन नहीं करते है तो उन्हें हिन्दुओं से माफी मांगनी चाहिए।’’

उन्होंने पत्रकारों से कहा,‘‘पूरा देश देख रहा है…राहुल गांधी खुद को शिवभक्त बताते हैं, लेकिन उनकी पार्टी के नेता ने चप्पल से मारने का जिक्र करके शिवलिंग की पवित्रता को अमर्यादित किया है। कृपया भगवान महादेव के घोर अपमान पर जवाब दें।’’ थरूर ने ये बयान शनिवार को बेंगलुरू लिटरेचर फेस्टिवल में दिये थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App