ताज़ा खबर
 

असदुद्दीन ओवैसी ने वापस मांगी मस्जिद! मंत्री का जवाब- माहौल खराब कर रहे, बिगड़ा तो कौन होगा जिम्मेदार?

रजा ने यह ट्वीट कर पूछा- ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड बताए की इस संस्था की फंडिंग कहां से होती है?

Author नई दिल्ली | Published on: November 15, 2019 11:09 PM
मोहसिन रजा, योगी सरकार में कबीना मंत्री हैं। (एक्सप्रेस आर्काइव फोटो)

AIMIM चीफ और हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी के मस्जिद को लेकर दिए हालिया बयान पर उत्तर प्रदेश के मंत्री मोहसिन रजा ने पलटवार किया है। उन्होंने पूछा कि ओवैसी इस तरह की बातें कहकर माहौल खराब कर रहे हैं। अगर यह बिगड़ गया, तो उसके लिए कौन जिम्मेदार होगा?

दरअसल, शुक्रवार (15 नवंबर, 2019) को ओवैसी ने ट्वीट किया कि उन्हें अपनी मस्जिद वापस चाहिए। एआईएमआईएम नेता के इस बयान पर सोशल मीडिया पर भारी संख्या में लोगों ने उन्हें जमकर ट्रोल किया। इसी बीच, सीएम योगी के मंत्री रजा की इसी मुद्दे पर प्रतिक्रिया आई।

उन्होंने भी ट्वीट किया और पूछा- ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड बताए की इस संस्था की फंडिंग कहां से होती है? ये सार्वजनिक करें, ओवैसी जैसे संस्था के कुछ सदस्य देश का माहौल क्यों खराब करने की कोशिश कर रहे हैं? अगर देश का माहौल बिगड़ गया होता है तो इसका जिम्मेदार कौन होगा?

AIMIM प्रमुख के इसी ट्वीट के बाद योगी के मंत्री ने उन्हें घेरते हुए यह ट्वीट कियाः

दरअसल, ओवैसी ने हाल ही में अयोध्या विवाद और उस पर SC के फैसले पर अंग्रेजी मैग्जीन ‘Outlook’ को इंटरव्यू दिया था। उन्होंने पत्रिका में प्रकाशित अपनी बातचीत से जुड़ी खबर को शेयर किया, जिसका शीर्षक ‘I Will Oppose Anything That Is Against India’s Constitution And Pluralism’ है।

मैग्जीन की प्रीथा नायर ने ओवैसी से इंटरव्यू में पूछा था- आपने कहा अयोध्या फैसले में कानून पर आस्था की जात हुई…? जवाब आया, “यह दोनों पक्षों में सिविल सूट था। कोर्ट ने कहा कि ऐसी ढेर सारे लोगों की मान्यता है कि श्रीराम का जन्म मस्जिद के नीचे हुआ था, जिसे 1992 में ढहा दिया गया था। मुझे इसलिए लगता है कि कानून पर आस्था की जीत हुई है।”

दूसरा बिंदु उकेरते हुए AIMIM नेता ने आगे कहा- क्या मस्जिद नहीं गिराई गई, क्या उसी के हिसाब से फैसला आया? तीसरी बात यह कि हमारी लड़ाई जमीन के टुकड़े के लिए नहीं थी। यह हमारे कानूनी अधिकारों को सुनिश्चित कराने के लिए थी। सुप्रीम कोर्ट ने यह भी कहा कि मस्जिद बनाने के लिए किसी मंदिर को नहीं ढहाया गया, इसलिए मुझे मेरी मस्जिद वापस चाहिए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 दिल्ली की जिला अदालतों में वकीलों की हड़ताल खत्म, बार एसोसिएशन ने कहा- लड़ाई जारी रहेगी
2 चर्चा में बोले AIMIM नेता- आपको ये गुमान है कि आप हमारी मस्जिदें तोड़ देंगे, पत्रकार ने टोका- कब तक जहर उगलेंगे…
3 यंग इंडिया पर फिर चलेगा 100 करोड़ का केस! IT ट्रिब्यूनल से राहुल गांधी की याचिका खारिज; बोला- ये व्यावसायिक संस्था
जस्‍ट नाउ
X