ताज़ा खबर
 

UP: पुलिस ने प्रदर्शन कर रहे दलित नेताओं को पीटा, संजय सिंह बोले- योगी जब-जब डरता है, पुलिस को आगे करता है

AAP नेता ने अगले ट्वीट में लिखा, "भारत खतरे में है। भारत के संवैधानिक मूल खतरे में है। पुलिस कस्टडी में पिटाई से दलित युवक की हत्या ‘अंग्रेज शासन’ की यादें ताजा कर रही है। ये कौन सी विचारधारा है, जो नागरिकों को ‘गुलाम’ समझती है?"

Yogi Adityanath, BJP, UP CM, UP Police, AAP, Sanjay Singh, Dalitsसंजय सिंह को उत्तर प्रदेश पुलिस ने हिरासत में ले लिया है।

AAP के वरिष्ठ नेता संजय सिंह ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधा है। मंगलवार को दलित युवक की हत्या और ट्रिपल मर्डर केस के खिलाफ पार्टी के दलित नेताओं की प्रदर्शन के दौरान पुलिस द्वारा पिटाई पर उन्होंने कहा है कि योगी जब-जब डरता है, पुलिस को आगे करता है।

सिंह ने पार्टी नेताओं की पिटाई का वीडियो शेयर करते हुए ट्वीट किया, “योगी जब-जब डरता है पुलिस को आगे करता है।” लालगंज थाने में पुलिस द्वारा दलित युवक की हत्त्या, आगरा, हरदोई में ट्रिपल मर्डर के खिलाफ AAP यूपी SC/ST विंग के महासचिव इंद्रेश सोनकर, विनोद बुद्ध, ललित बाल्मीकी, विनय, तुषार, ओंकार की अगुवाई में ज़ोरदार प्रदर्शन हुआ।”

AAP नेता ने अगले ट्वीट में लिखा, “भारत खतरे में है। भारत के संवैधानिक मूल खतरे में है। पुलिस कस्टडी में पिटाई से दलित युवक की हत्या ‘अंग्रेज शासन’ की यादें ताजा कर रही है। ये कौन सी विचारधारा है, जो नागरिकों को ‘गुलाम’ समझती है? डरिए मत। हमारे साथ बोलिए, गरीब का एक बेटा बेवजह मरा है। जवाब तो इन्हें देना होगा।”

सिंह ने आप कार्यकर्ताओं के प्रदर्शन के कुछ फोटोज शेयर करते हुए आगे लिखा, “हर ज़ोर जुर्म के टक्कर में संघर्ष हमारा नारा है” उत्तर प्रदेश के थाने दलितों पर अत्याचार का अड्डा बन चुका है। AAP यूपी SC/ST विंग के नेताओं का क्रांतिकारी अभिवादन।”

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 भारत और चीन की सीमा निर्धारित नहीं, वहां हमेशा समस्याएं रहेंगी- बोले चीनी विदेश मंत्री
2 श्रीनगर में पहली बार महिला आईपीएस को बनाया गया सीआरपीएफ का आईजी, जानें कौन हैं चारू सिन्हा
3 India-China Border: उन बातों की पूर्ण अनदेखी हुई जिन पर पहले सहमति बनी थी- भारत ने पैंगोंग सो पर चीनी कार्रवाई पर कहा
ये पढ़ा क्या?
X