scorecardresearch

नड्डा की टीम से हटाए गए मुरलीधर राव को MP का प्रभार, राम माधव को अब तक कोई जिम्मेदारी नहीं, होने लगीं RSS में लौटने की चर्चाएं

बिहार और गुजरात चुनाव में शानदार प्रदर्शन करने वाले भूपेंद्र यादव को इनाम के तौर पर इन राज्यों का प्रभारी बनाए रखा गया है।

BJP Chief JP Nadda, Ram Madhav
भाजपा ने हाल ही में राम माधव को महासचिव पद से हटा दिया था। (फाइल फोटो)

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने संगठन में अहम बदलाव किए हैं। इसके तहत पदाधिकारियों को अब राज्यों के प्रभार बांटे गए हैं। कुछ दिन पहले ही नड्डा की महासचिवों की लिस्ट से बाहर किए गए पी मुरलीधर राव को अब मध्य प्रदेश का प्रभार सौंपा गया है, जबकि राम माधव को अब तक पार्टी में कोई पद नहीं दिया गया है। सूत्रों का कहना है कि राम माधव आरएसएस वापस लौट सकते हैं।

दूसरी तरफ बिहार और गुजरात चुनाव में शानदार प्रदर्शन करने वाले भूपेंद्र यादव को इनाम के तौर पर इन राज्यों का प्रभारी बनाए रखा गया है। इसके अलावा नड्डा ने बंगाल चुनाव को ध्यान में रखते हुए कैलाश विजयवर्गीय को भी पद पर बरकरार रखा है। बताया गया है कि पश्चिम बंगाल में संगठन पर पकड़ बरकरार रखने के लिए पार्टी ने विजयवर्गीय पर भरोसा बरकरार रखा है। उनके साथ दो सह प्रभारी अरविंद मेनन और अमित मालवीय को नियुक्त किया गया है।

दूसरी तरफ जिन नेताओं को अतिरिक्त जिम्मेदारियां दी गई हैं, उनमें महासचिव अरुण सिंह शामिल हैं, जो पहले ओडिशा का प्रभार संभाल रहे थे, अब उन्हें राजस्थान और कर्नाटक का प्रभार सौंपा गया है। दूसरी तरफ नए महासचिव बनाए गए दिलीप सैकिया को झारखंड और अरुणाचल प्रदेश का प्रभार दिया गया है।

पूर्व केंद्रीय मंत्री राधामोहन सिंह को उत्तर प्रदेश का संगठन प्रभारी बनाया गया है। वहीं, दुष्यंत कुमार गौतम को उत्तराखंड का प्रभारी बनाया गया है। इसके अलावा बिजयंत जय पांडा दिल्ली में रहेंगे। दूसरी तरफ हरियाणा में विनोद तावड़े को प्रभारी और अन्नपूर्णा देवी को सह प्रभारी बनाया गया है।

पढें नई दिल्ली (Newdelhi News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.