ताज़ा खबर
 

मोहन भागवत के साथ एक ही फ्लाइट में दिल्ली से नागपुर गए अमित शाह, 7 घंटे बिताए, आरएसएस प्रमुख के साथ एक घंटा अलग से बैठक की

मोहन भागवत के साथ अमित शाह की बैठक में आरएसएस नेता भैय्याजी जोशी भी मौजूद रहे।

भाजपा के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष अमित शाह। (फाइल फोटो)

सोमवार (29 मई) को नागपुर पहुंचे भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के प्रमुख मोहन भागवत से करीब एक घंटा लंबी मुलाकात की। भागवत के साथ शाह की बैठक में आरएसएस नेता भैय्याजी जोशी भी मौजूद रहे। टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार अमित शाह और मोहन भागवत एक ही फ्लाइट से दिल्ली से नागपुर गए थे। अमित शाह नागपुर में करीब सात घंटे तक रहे।

माना जा रहा है कि अमित शाह ने भागवत और जोशी से नरेंद्र मोदी सरकार के तीन साल पूरे होने और आगामी राष्ट्रपति चुनाव पर चर्चा की। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार शाह ने गुजरात, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश इत्यादि प्रदेशों के विधान सभा चुनावों पर भी आरएसएस के दो शीर्ष नेताओं से चर्चा की। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार भाजपा अनुसूचित जाति या अनुसूचित जनजाति के किसी व्यक्ति को राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बना सकती है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार शाह भाजपा के “विस्तारक” कार्यक्रम के संबंध में नागपुर आए थे। भाजपा ने इस कार्यक्रम के तहत साल 2019 में होने वाले लोक सभा चुनाव में 400 से ज्यादा सीटें जीतने का लक्ष्य रखा है। अमित शाह ने 110 दिनों तक पूरे देश में चलने वाले इस कार्यक्रम की शुरुआत की।

नागपुर पहुंचते ही अमित शाह ने स्थानीय सांसदों और विधायकों के संग बैठक की और विस्तारक कार्यक्रम की प्रगति की समीक्षा की। पार्टी के सांसदों और विधायकों के संग बैठक के बाद अमित शाह ने थोड़ी देर आराम किया और उसके बाद वो आरएसएस प्रमुख भागवत से मिलने गए। आरएसएस प्रमुख भागवत से मिलने के बाद शाह सीधे एयरपोर्ट के लिए निकल गए।

अभी हाल ही में नागपुर में आयोजित केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी के जन्मदिन उत्सव में शामिल होने के लिए नहीं पहुंचे थे। मौजूदा राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का कार्यकाल जुलाई में पूरा हो रहा है। सभी विपक्षी दल भाजपा गठबंधन के खिलाफ साझा उम्मीदवार उतारने की तैयारी कर रहे हैं।

वीडियो- पहले आतंकवाद खत्म करो फिर भारत के साथ क्रिकेट खेलना : विजय गोयल

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App