scorecardresearch

पीएम मोदी के साथ मुख्‍यमंत्रियों की बैठक के बाद बीजेपी ने वीडियो ट्वीट कर केजरीवाल को कहा- असभ्‍य

पीएम मोदी ने आज सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों से वर्चुअल मीटिंग कर कोरोना स्थिति की समीक्षा की। इस मीटिंग का एक छोटा सा क्लिप शेयर करते हुए बीजेपी ने अरविंद केजरीवाल पर चुटकी ली है।

Narendra Modi meet with CMs|video of PM Modi and CMs meet|Arvind Kejriwal video
कोरोना स्थिति पर पीएम मोदी की मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक (Photo Credit- ट्विटर वीडियो ग्रैब/@BJP4Delhi)

भारतीय जनता पार्टी ने बुधवार (27 अप्रैल, 2022) को एक वीडियो पोस्ट करते हुए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को ‘असभ्य’ बताया है। दरअसल, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना की स्थिति को लेकर राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए एक बैठक की थी। इसी मीटिंग का यह वीडियो है।

वीडियो का एक छोटा सा क्लिप शेयर करते हुए बीजेपी ने कहा- “दिल्ली के मैनरलेस सीएम”। 19 सेकेंड के इस क्लिप में पीएम मोदी के संबोधन के दौरान अरविंद केजरीवल अपनी कुर्सी पर पीछे हाथ रखकर अंगड़ाई लेते नजर आ रहे हैं।

बीजेपी के इस ट्वीट पर कुछ यूजर्स ने भी प्रतिक्रिया दी है। निर्भय पाठक नाम के एक यूजर ने कहा, “आपके नाम संतों के हैं पर विचार कितने तुच्छ,देश के प्रधानमंत्री मंत्री बोल रहे हैं। कुछ तो लिहाज करो IIT और IRS के तमगे वाले लोगों।” एक अन्य यूजर किशन ने कहा, “हां नौकर है वो जनता का, काम करवा लो, कब तक ये पाखंड चलता रहेगा। महंगाई, चीन के कब्जे, बेरोजगारी, भारत से लोगों का पलायन, दंगे फसाद पर बोलने पर क्या होता। मानिए पीएम नरेंद्र मोदी को।”

पीएम मोदी की मुलाकात
देशभर में कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में तेजी को देखते हुए पीएम मोदी ने आज सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक की और कोविड की स्थिति की समीक्षा की। महामारी के अलावा, पीएम मोदी ने बैठक में ईंधन की बढ़ती कीमतों पर भी चर्चा की। उन्होंने मुख्यमंत्रियों से राज्यों में आम आदमी को लाभ पहुंचाने के लिए “राष्ट्रीय हित” में मूल्य वर्धित कर को कम करने की अपील की।

उन्होंने कहा, “मैं किसी की आलोचना नहीं कर रहा हूं, लेकिन मैं आपसे आपके राज्यों के लोगों के कल्याण के लिए कह रहा हूं… मैं आपसे लोगों को लाभ पहुंचाने के लिए छह महीने की देरी के बाद भी वैट कम करने का आग्रह करता हूं।”

बता दें कि देश में पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतें बहस का हिस्सा बनी हुई हैं। विपक्ष इस मुद्दे पर लगातार केंद्र को घेर रहा है और तेल के दामों में वृद्धि के लिए सरकार को जिम्मेदार ठहरा रहा है। वहीं, बीजेपी ने तेल की कीमतों में बढ़ोतरी के लिए अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की बढ़ती लागत का हवाला दिया है।

पढें राष्ट्रीय (National News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट