ताज़ा खबर
 

संजय निषाद बोले- मुझे बनाया जाए यूपी का उप मुख्यमंत्री, कोई चोट पहुंचाएगा तो खुश नहीं रहने दूंगा

संजय निषाद ने कहा कि बीजेपी उन्हें अगले विधानसभा चुनाव में उपमुख्यमंत्री का चेहरा बनाकर चुनाव लड़े। इससे बीजेपी को निश्चित तौर पर जीत मिलेगी और दोबारा से सरकार बनेगी। 

निषाद पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष संजय निषाद ने मांग की है कि आने वाले उत्तरप्रदेश विधानसभा चुनाव में उन्हें उप मुख्यमंत्री का चेहरा बनाया जाए। (फोटो- एएनआई)

साल 2022 में होने वाले उत्तरप्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले भाजपा की सहयोगी पार्टियों ने उनको तेवर दिखाने शुरू कर दिए हैं। उत्तरप्रदेश में भाजपा की सहयोगी निषाद पार्टी के नेता संजय निषाद ने आगामी विधानसभा चुनाव में उपमुख्यमंत्री पद पर अपना दावा ठोंक दिया है। साथ ही उन्होंने बीजेपी की ओर इशारा करते हुए कहा है कि वे हमें दुखी करके खुद खुश नहीं रह सकते हैं।    

निषाद पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष संजय निषाद ने कहा कि आने वाले उत्तरप्रदेश विधानसभा चुनाव में उन्हें उप मुख्यमंत्री का चेहरा बनाया जाए। साथ ही उन्होंने मंत्रिमंडल और राज्यसभा के लिए भी अपनी दावेदारी ठोंकी। संजय निषाद ने कहा कि अगर भाजपा उन्हें खुश रखेगी तो उन्हें 2022 में ख़ुशी मिलेगी। वे हमें दुखी रखकर खुद खुश नहीं रह सकते हैं। उन्होंने यह भी कहा कि वे अपने समाज के आरक्षण के मुद्दे को लेकर अभी भी संघर्ष कर रहे हैं।

इसके अलावा संजय निषाद ने कहा कि उत्तरप्रदेश में अभी तक सभी जातियों के मुख्यमंत्री बनाए गए हैं  लेकिन 18 प्रतिशत वोट बैंक वाले मछुआरा समाज से कोई मुख्यमंत्री नहीं बना है। इसलिए भाजपा को मछुआरा समाज के चेहरे पर चुनाव लड़ना चाहिए। अगर मुख्यमंत्री पद नहीं दिया जा सकता है तो बीजेपी उन्हें अगले विधानसभा चुनाव में उपमुख्यमंत्री का चेहरा बनाकर चुनाव लड़े। इससे बीजेपी को निश्चित तौर पर जीत मिलेगी और दोबारा से सरकार बनेगी। 

संजय निषाद ने पहले भी अमित शाह और भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा से मुलाक़ात कर केंद्र और राज्य मंत्रिमंडल में अपनी हिस्सेदारी की मांग की थी। संजय निषाद ने दावा किया है कि प्रदेश में 160 सीटों पर निषाद समाज बहुलता में है। इनमें से कम से कम 72 सीट पर निषाद पार्टी जीत दर्ज कर सकती है. इसलिए निषाद पार्टी को उचित सीट मिलनी चाहिए।   

बता दें कि पूर्वी उत्तरप्रदेश के इलाके में निषाद समुदाय की अच्छी-खासी आबादी है। पूर्वी उत्तरप्रदेश के अधिकांश विधानसभा सीटों पर निषाद समाज निर्णायक भूमिका अदा करते हैं। इन्हीं समीकरणों की वजह से योगी आदित्यनाथ के मुख्यमंत्री बन जाने के बाद खाली हुई गोरखपुर सीट पर भाजपा को हराकर संजय निषाद के बेटे प्रवीण निषाद ने कब्ज़ा कर लिया था। हालांकि बाद में प्रवीण निषाद भाजपा में शामिल हो गए थे। प्रवीण निषाद वर्तमान में संत कबीर नगर सीट से भाजपा सांसद हैं।  

Next Stories
1 आने वाले 100 साल तक कांग्रेस को संभालते रहें, बोले संबित पात्रा, केजरीवाल पर जेडीयू प्रवक्ता का तंज
2 बिहार शर्मसार: अस्पताल में लाश रखने का इंतज़ाम नहीं, पोटली बांध ले जाना पड़ा श्मशान
3 वायरस, फर्जी वेबसाइट व नकली ऐप से रहें सावधान, वरना उठाना पड़ सकता है भारी नुकसान, ऐसे करें पहचान
आज का राशिफल
X