scorecardresearch

अरबपति कारोबारी पालोनजी मिस्त्री नहीं रहे

मिस्त्री का जन्म 1929 में हुआ था। उन्होंने पांच अरब अमेरिकी डालर से अधिक के एसपी समूह का नेतृत्व किया।

अरबपति कारोबारी और शापूरजी पालोनजी समूह के प्रमुख पालोनजी मिस्त्री का यहां उनके आवास पर निधन हो गया। कंपनी के अधिकारियों ने मंगलवार को यह जानकारी दी। वे 93 साल के थे। मिस्त्री का एसपी समूह 18.4 फीसद हिस्सेदारी के साथ टाटा समूह का सबसे बड़ा शेयरधारक है। अधिकारियों ने बताया कि मंगलवार को आधी रात के बाद दक्षिण मुंबई स्थित उनके आवास पर नींद के दौरान उनका निधन हो गया। उन्होंने आयरलैंड की नागरिकता हासिल कर ली थी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उन्हें श्रद्धांजलि देते हुए ट्वीट किया कि वह पालोनजी के निधन से दुखी हैं। मोदी ने कहा, ‘उन्होंने वाणिज्य और उद्योग की दुनिया में महत्त्वपूर्ण योगदान दिया है।’मिस्त्री को 2016 में भारत के तीसरे सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार पद्मभूषण से सम्मानित किया गया था। केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने मिस्त्री के निधन को एक युग का अंत बताया। नितिन गडकरी, मनसुख मंडाविया, हरदीप सिंह पुरी और कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस बोम्मई समेत अन्य मंत्रियों ने भी उनके निधन पर शोक व्यक्त किया है।

मिस्त्री का जन्म 1929 में हुआ था। उन्होंने पांच अरब अमेरिकी डालर से अधिक के एसपी समूह का नेतृत्व किया। समूह की शुरुआत निर्माण व्यवसाय से हुई थी और बाद में जमीन जायदाद कारोबार, कपड़ा, ‘शिपिंग’ और घरेलू उपकरणों के विनिर्माण तक फैला। उनके परिवार में साइरस मिस्त्री सहित चार संतान हैं। साइरस मिस्त्री ने टाटा समूह के अध्यक्ष के रूप में रतन टाटा का स्थान लिया था। हालांकि, उन्हें 2016 में बोर्ड ने हटा दिया। वित्तीय लिहाज से एसपी समूह के लिए पिछले कुछ वर्ष कठिन रहे हैं और उसे टाटा समूह के शेयरों को गिरवी रख कर धन जुटाना पड़ा।

पढें राष्ट्रीय (National News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

X