ताज़ा खबर
 

बिहार: पटना में सड़कों पर जोरदार हंगामा, तेजस्वी विधायकों संग जाना चाह रहे गोपालगंज, पुलिस ने घर को घेरा, राजभवन की सुरक्षा बढ़ाई

Gopalganj : आरजेडी जनता दल यूनाइटेड के विधायक अमरेंद्र पांडेय की गिरफ्तारी की मांग कर रही है। इस मुद्दे को लेकर शुक्रवार सुबह पार्टी विधायकों से तेजस्वी यादव गोपालगंज के लिए निकले लेकिन प्रशासन ने उन्हें रोक दिया।

Tejaswi Yadav, Gopalgunj, Corona Virus, Covid-19तेजस्वी यादव शुक्रवार की सुबह पार्टी विधायकों एवं विधान पार्षदों को लेकर गोपालगंज के लिए निकले तो प्रशासन ने उन्‍हें रोक दिया। (फोटो-ANI)

बिहार के गोपालगंज में हुए तिहरे हत्याकांड को लेकर सियासत गर्म है। शुक्रवार को पटना में सड़कों पर जोरदार हंगामा देखने को मिला। आरजेडी नेता तेजस्वी यादव विधायकों संग गोपालगंज जाना चाह रहे थे लेकिन पुलिस ने उनका घर घेर लिया और साथ ही राजभवन की भी सुरक्षा बढ़ा दी। तेजस्वी यादव के काफिले में उनके भाई तेजप्रताप और बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी भी मौजूद थे।

आरजेडी जदयू विधायक अमरेंद्र पांडेय की गिरफ्तारी की मांग कर रही है। इस मुद्दे को लेकर शुक्रवार सुबह पार्टी विधायकों से तेजस्वी यादव गोपालगंज के लिए निकले लेकिन प्रशासन ने उन्हें रोक दिया। इस दौरान तेजस्वी यादव ने कहा कि राज्य सरकार अपराधियों को पकड़े के बजाए हमें पीड़ित परिवार से मिलने से रोक रहे हैं। उन्होंने आगे कहा कि सरकार मुझे जाने की अनुमति नहीं दे रही है लेकिन गुंडा विधायक को हजार बाइक के साथ रैली निकालने से नहीं रोकती है।

हंगामे के बीच तेजस्वी यादव के अनुरोध पर विधानसभा अध्‍यक्ष ने आरजेडी के प्रतिनिधिमंडल को मिलने के लिए बुलाया है। विधानसभा अध्यक्ष से मिलने पहुंचे आरजेडी के प्रतिनिधिमंडल में तेजस्‍वी के साथ तेज प्रताप यादव, जगदानंद सिंह तथा आलोक मेहता शामिल हैं।

सीबीआई जांच की मांग: तेजस्वी यादव ने कहा कि हम गोपालगंज मारपीट करने नहीं जा रहे हैं। हम पीड़ित परिवार से मिलने जा रहे हैं। शंभू मिश्रा और मुन्ना तिवारी की हत्या का भी विरोध कर रहे हैं। सरकार अगर चाहती है कि यह विरोध प्रदर्शन खत्म हो तो मामले की जांच सीबीआई को सौंपे क्योंकि हमें बिहार पुलिस पर भरोसा नहीं है।


क्या है मामला: बीते रविवार को  गोपालगंज के हथुआ थाना क्षेत्र के रुपनचक गांव में आरजेडी नेता जेपी यादव अपने आवास पर थे । इस दौरान कुछ बाइक सवार बदमाशों ने अंधाधुंध  फायरिंग की। इस दौरान आजेडी नेता के माता-पिता की मौत हो गई और आरजेडी नेता के भाई की भी अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई। वहीं,आरजेडी नेता का इलाज पटना मेडिकल कॉलेज एवं अस्‍पताल में जारी है।घायल आरजेडी नेता ने घटना में जेडीयू विधायक अमरेंद्र कुमार पांडेय, मुकेश पांडेय और सतीश पांडेय को इस हत्याकांड के लिए  जिम्मेदार बताया है। उनके खिलाफ नामजद एफआइआर दर्ज कराई है। हालांकि इस मामले उनकी गिरफ्तारी नहीं हुई।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 दिल्ली में कोरोना ने तोड़ा रिकॉर्ड, 24 घंटे में एक हजार से ज्यादा नए मामले, मौत के आंकड़ों पर भी विवाद
2 ‘जो सबसे लुटा पिटा हो उसे कहते हैं पिद्दी, जो पिद्दी से भी गया गुजरा हो, उसे कहते हैं टिड्डी’, अर्नब गोस्वामी का वीडियो हो रहा वायरल
3 मनमोहन फार्मूले पर ही चल रही मोदी सरकार, पर राहुल ने दागे सवाल- ‘LAC पर हो क्या रहा है? चुप्पी तोड़े सरकार’