ताज़ा खबर
 

बिहार में टूटी LJP तो बोलीं लालू की बिटिया- लोग मर रहे थे, तब आप विरोधियों को तोड़ने की साजिश रच रहे थे

सोमवार को रोहिणी आचार्या ने लोजपा में टूट होने के बाद कई सारे ट्वीट किए। अपने ट्वीट के जरिए रोहिणी ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और पशुपति कुमार पारस पर निशाना साधा।

लोजपा में हुई टूट को लेकर लालू प्रसाद यादव की बेटी ने नीतीश कुमार पर निशाना साधा और कहा कि जब लोग मर रहे थे तब आप विरोधियों को तोड़ने की साजिश रच रहे थे। (एक्सप्रेस फोटो/ ट्विटर:RohiniAcharya2)

लोजपा में फूट पड़ने के बाद बागी सांसदों ने चिराग पासवान के चाचा और हाजीपुर से सांसद पशुपति कुमार पारस को अपना नेता चुन लिया। लोजपा में हुई टूट के लिए राजद ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को जिम्मेदार ठहराया। राजद नेता लालू प्रसाद यादव की बिटिया रोहिणी आचार्या ने भी इस मामले पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि जब लोग मर रहे थे तब आप विरोधियों को तोड़ने की साजिश रच रहे थे।

सोमवार को रोहिणी आचार्या ने लोजपा में टूट होने के बाद कई सारे ट्वीट किए। अपने ट्वीट के जरिए रोहिणी ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और पशुपति कुमार पारस पर निशाना साधा। रोहिणी ने ट्वीट करते हुए लिखा कि दवा और इलाज के अभाव में.. जनता तड़प-तड़प कर मर रही थी..! कुशासन बाबू महलों में विरोधी पार्टी को तोड़ने का षड्यंत्र रच रहे थे..!! साथ ही रोहिणी ने एक और ट्वीट करते हुए लिखा कि बड़े भाई के एहसानों का सिला कुछ इस तरह दिया..! अपनी ही पार्टी को तोड़कर कुशासन बाबू के षड्यंत्र में शामिल हुआ..!!  

इसके अलावा भी रोहिणी ने कई ट्वीट किए। अपने एक ट्वीट में रोहिणी ने पशुपति कुमार पारस की ओर इशारा करते हुए लिखा कि बड़े भाई ने उसे राजनीतिक मुकाम दिया..! उस भाई की पार्टी को सता लोभ में तोड़ने का कुचक्र रचा..!! एक अन्य ट्वीट में रोहिणी ने लिखा कि ज़मीर बेचकर पलटू के गोद में जा बैठा..! स्वर्गीय रामविलास पासवान जी के आदर्शों को जिसने नीलाम कर दिया! 

सोमवार को राजद के राज्यसभा सांसद मनोज झा ने लोजपा में टूट को लेकर नीतीश कुमार पर जमकर निशाना साधा। मनोज झा ने कहा कि इसकी स्क्रिप्ट नीतीश कुमार के आवास एक अणे मार्ग से लिखी गई। साथ ही मनोज झा ने कहा कि नीतीश कुमार विखंडन की राजनीति करते हैं और उन्होंने 2010 के बाद राजद को भी तोड़ने की कोशिश की। आगे उन्होंने कहा कि रामविलास पासवान की मौत के एक साल भी नहीं हुए हैं और उनकी स्मृति के साथ क्या हो रहा है। इसलिए रामविलास पासवान का आधार वोट बैंक तय करेगा कि आगे की राजनीति कैसी होगी?

लोजपा में फूट पड़ने के बाद राजद ने चिराग पासवान को बड़ा ऑफर भी दे दिया। मनेर से राजद विधायक भाई वीरेंद्र ने चिराग पासवान को तेजस्वी यादव के साथ आने का ऑफर दे दिया। राजद विधायक ने कहा कि चिराग पासवान और तेजस्वी यादव युवा हैं और अगर दोनों एक साथ हो जाएंगे तो बिहार की राजनीति पर बड़ा असर पड़ेगा। साथ ही उन्होंने यह भी कह दिया है साथ आने के बाद तेजस्वी बिहार की और चिराग केंद्र की राजनीति करें।

Next Stories
1 राम मंदिर जमीन विवादः AAP सांसद संजय सिंह का आरोप- मेरे घर हुआ हमला; दो हिरासत में
2 नया नहीं है चाचा-भतीजे के बीच का सियासी संग्राम, LJP से पहले ठाकरे से लेकर पवार और यादव परिवार में भी हो चुकी है टूट
3 7th Pay Commission: DA, DR पर इन कर्मचारियों को जल्द मिल सकती है खुशखबरी, एरियर पर भी हो सकता है निर्णय!
ये पढ़ा क्या?
X