ताज़ा खबर
 

मोदीजी झूठ बोलना छोड़ें और देश के लिए काम करें: राहुल गांधी

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर किए तीखे प्रहार में उनसे ‘‘झूठ बोलना’’ छोड़ने को कहा। उन्होंने राज्य से बेरोजगार युवाओं के पलायन के लिए जदयू एवं राजद..

Author मोतीहारी | October 27, 2015 12:54 AM
मोतिहारी में चुनावी रैली को संबोधित करते कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी। (पीटीआई फोटो)

बिहार में महागठबंधन की जीत के बाद अन्य राज्यों से भाजपा को उखाड़ फेंकने का संकल्प व्यक्त करते हुए कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर किए तीखे प्रहार में उनसे ‘‘झूठ बोलना’’ छोड़ने को कहा। उन्होंने राज्य से बेरोजगार युवाओं के पलायन के लिए जदयू एवं राजद पर लगाए गए मोदी के आरोपों को भी खारिज किया।

राहुल गांधी यहां एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘मोदीजी आते हैं और बड़े बड़े भाषण देते हैं। आप उनसे पूछें कि महाराष्ट्र में भाजपा सरकार के तहत बिहारियों के साथ कैसा बर्ताव किया गया, यह उनसे पूछें। आप उनसे पूछे कि जब बिहारियों को खदेड़ा जाता है तब वे क्या करते हैं।’’

कांग्रेस उपाध्यक्ष का यह बयान तब आया है जब एक दिन पहले ही प्रधानमंत्री ने महागठबंधन के ‘बिहारी बनाम बाहरी’ मुद्दे के जवाब में विकास का छह सूत्री एजेंडा पेश करते हुए कहा था कि बिहार के बेरोजगार युवाओं को रोजगार के लिए पलायन करने को मजबूर होना पड़ रहा है और इसके कारण ही राज्य के युवाओं को आजीविका के लिए बाहरी बनने को मजबूर होना पड़ रहा है।

आरक्षण को बचाने के लिए जान की बाजी लगा दूंगा: मोदी

प्रधानमंत्री के आरोपों को खारिज करते हुए राहुल ने कहा कि न केवल बिहार के लोग बल्कि पूरा देश इस ‘झूठ’ को समझ रहा है। कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा, ‘‘मोदीजी, लोग आपके झूठ को समझते हैं। झूठ बोलना छोड़े और काम करें। मैं जानता हूं कि आरएसएस ने आपको यह प्रशिक्षण दिया है। यह आरएसएस से आपको मिला प्रशिक्षण है लेकिन आप प्रधानमंत्री हैं। देश के लिए काम करना शुरू करें और झूठ बोलना छोड़ें।’’

उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार के नेतृत्व में महागठबंधन की सरकार बिहार का चेहरा बदल देगी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने देश चलाया है और जानती है कि शासन क्या है। राहुल ने कहा, ‘‘हम बिहार में भाजपा और आरएसएस को रोकेंगे, हम एक एक करके सभी राज्यों से उन्हें उखाड़ फेकेंगे। महागठबंधन के हाथ मजबूत करें, नीतीशजी मुख्यमंत्री बनेंगे… कांग्रेस जानती है कि शासन कैसे चलाया जाता है।’’

बिहार चुनाव: साथियों के खराब प्रदर्शन की आशंका से भाजपा ने बदली रणनीति, बनाए ये 5 प्‍लान

उन्होंने कहा कि पिछले 10 वर्षो में हमने काफी संख्या में लोगों को गरीबी रेखा से बाहर निकाला। हम बिहार में भी ऐसा ही करेंगे और राज्य की तस्वीर बदल देंगे। यह एक गठबंधन है। हम तीनों मिलकर राज्य का चेहरा बदल देंगे।

राहुल ने लोगों को याद दिलाया कि मोदी ने युवाओं को रोजगार देने समेत कई वादे किये थे। उन्होंने पूछा कि क्या उन्हें रोजगार मिला। कांग्रेस उपाध्यक्ष ने मोदी के मेक इन इंडिया कार्यक्रम पर भी कटाक्ष किया। उन्होंने कहा, ‘‘आप जहां भी जायेंगे, आपको मेक इन इंडिया का विज्ञापन दिख जायेगा। इसे एक शेर के तौर पर दिखाया गया है। आप जब भी कम्प्यूटर खोलेंगे आपको शेर नुमा मेक इन इंडिया दिख जायेगा लेकिन इस बब्बर शेर ने देश के किसी युवा को रोजगार नहीं दिया।’’

राहुल गांधी ने दादरी में गोमांस के अफवाह पर एक व्यक्ति की पीट पीट कर हत्या करने और हरियाणा में एक दलित परिवार के घर में आग लगाये जाने के मामलों पर मोदी सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने कहा, ‘‘कुछ दिनों पहले मैं दादरी गया था। जब भी चुनाव आते हैं तब ऐसे विवादों को हवा दी जाती है। उन्होंने लोकसभा चुनाव से पहले उत्तर प्रदेश में ऐसा किया। उन्होंने महाराष्ट्र और जम्मू कश्मीर में ऐसा ही किया। वे लोगों को उकसाते हैं और फिर कहते हैं कि वे भारत निर्माण करना चाहते हैं।’’

कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा, ‘‘ मैं हरियाणा भी गया था। दो बच्चों को जलाकर मार दिया गया। उनके मंत्री (भाजपा के) कहते हैं कि अगर वे स्वयं मर जाते हैं तब सरकार क्या कर सकती हैं। अगर कांग्रेस के किसी मंत्री ने ऐसा सोचा भी होता तब हम उसे बाहर निकाल देते। मोदीजी ने एक शब्द भी नहीं कहा।’’

उन्होंने कहा कि सूटबूट वाले बिहार में सरकार नहीं बना पायेंगे। उन्होंने आरोप लगाया कि मोदीजी का अच्छे दिन का वादा कुछ चहेतों के लिए आया है और किसानों, मजदूरों, दलितों और समाज के कमजोर वर्ग के लोगों को इसका कोई लाभ नहीं मिला है।

राहुल ने दावा किया कि मोदी ने बिहार में 17-18 रैलियों को संबोधित किया है लेकिन चुनाव के बाद वह नहीं दिखेंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App