ताज़ा खबर
 

बिहार के नतीजों का केरल, असम, यूपी, तमिलनाडु, प. बंगाल चुनावों पर क्‍या होगा असर, जानिए

बिहार चुनाव की हार का सबसे ज्‍यादा बिहार और तमिनाडु में पड़ सकता है। तमिलनाडु में तो बीजेपी ने एकदम बिहार जैसी रणनीति तैयार थी, लेकिन अब इसे बदलना पड़ सकता है।
नीतीश कुमार के साथ आरजेडी चीफ लालू यादव। (फाइल फोटो)

बिहार चुनाव में मिली करारी हार ने नरेंद्र मोदी का विजय रथ रोक दिया है। महागठबंधन की जीत का संदेश पश्चिम बंगाल, उत्‍तर प्रदेश, असम, तमिलनाडु और केरल तक गया है। आइए जानते हैं कि इन पांच राज्‍यों पर क्‍या पड़ेगा बिहार चुनाव का प्रभाव?

uttar pradesh

उत्‍तर प्रदेश

बिहार चुनाव में महागठबंधन का साथ छोड़ने वाली समाजवादी पार्टी ने अपनी रणनीति पर फिर से विचार करने में जुट गई है। रविवार को इंडियन एक्‍सप्रेस से बातचीत में समाजवादी पार्टी के वरिष्‍ठ नेता और मुलायम सिंह यादव के भाई शिवपाल यादव ने कहा कि नेताजी (मुलायम सिंह यादव) भविष्‍य की रणनीति फिर से तैयार करेंगे।

west bengal

पश्चिम बंगाल

बिहार चुनाव में मिली हार से पश्चिम बंगाल में चल रही बीजेपी की तैयारी को जोरदार झटका लगा है। पश्चिम बंगाल में 2016 में विधानसभा चुनाव होने हैं। यही वजह है कि बीजेपी की हार से ममता बनर्जी बेहद उत्‍साहित हैं और उन्‍होंने नीतीश कुमार जीत की बधाई भी दी। इसमें शक नहीं कि बिहार चुनाव में हार से बीजेपी की लोकप्रियता प्रभावित हुई है।

tamilnadu

तमिलनाडु

बिहार चुनाव की हार का अगर सबसे ज्‍यादा प्रभाव कहीं पर पड़ सकता है तो वो है तमिनाडु। अमित शाह ने अगस्‍त 2015 में तमिलनाडु के लिए खास रणनीति बनाई थी, जो कि कमोबेश बिहार के ही जैसी थी, लेकिन उन्‍हें जो अनुभव मिला है, उससे आशंका के बादल मंडराने तो लगे हैं।

केरल

बीजेपी के शीर्ष नेता जब बिहार में प्रचार कर रहे थे, तब केरल में लोकल बॉडी इलेक्‍शन हो रहे थे। इसमें बीजेपी को ठीक-ठाक सफलता मिली, लेकिन इस राज्‍य में सबसे बड़ी चुनौती अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव हैं। बीजेपी ने लोकल बॉडी इलेक्‍शन में कई दलों के साथ समझौता किया था, अब देखना होगा कि अगले साल अप्रैल में वहां क्‍या होता है? पार्टी का मानना है कि चुनाव के वक्‍त केरल में मुद्दे अलग होंगे।

assam

असम

बिहार चुनाव के बाद सभी का फोकस असम की ओर शिफ्ट होने वाला है। इस राज्‍य में बीजेपी का मुख्‍य मुकाबला कांग्रेस के साथ होना है। खुद पीएम नरेंद्र मोदी काफी समय से असम में बीजेपी को खड़ा करने के लिए प्रयासरत दिखे हैं। अब देखना होगा कि यहां बीजेपी किस प्रकार की रणनीति अपनाएगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.