ताज़ा खबर
 

बिहार में पंचायत का फरमान: लड़कियां नहीं करेंगी मोबाइल का इस्तेमाल

बिहार के गोपालगंज जिले की फुलवरिया पंचायत में मुखिया और सरपंच ने बैठक कर स्थानीय स्कूलों और कॉलेजों में छात्राओं के मोबाइल रखने पर पाबंदी लगाने का प्रस्ताव पारित किया है। पंचायत की मुखिया और सरपंच दोनों ही महिला हैं। फुलवरिया की मुखिया सावित्री देवी और सरपंच अस्मिना खातून की मौजूदगी में सोमवार को एक […]
Author December 23, 2014 15:34 pm
भारत में जून तक 21.3 करोड़ मोबाइल इंटरनेट उपभोक्ता होने की संभावना

बिहार के गोपालगंज जिले की फुलवरिया पंचायत में मुखिया और सरपंच ने बैठक कर स्थानीय स्कूलों और कॉलेजों में छात्राओं के मोबाइल रखने पर पाबंदी लगाने का प्रस्ताव पारित किया है।

पंचायत की मुखिया और सरपंच दोनों ही महिला हैं। फुलवरिया की मुखिया सावित्री देवी और सरपंच अस्मिना खातून की मौजूदगी में सोमवार को एक बैठक हुई, जिसमें बड़ी संख्या में गांववासी शामिल हुए।

बैठक में स्कूल और कॉलेज की छात्राओं के मोबाइल रखने पर पाबंदी लगाने का प्रस्ताव पारित किया गया।

प्रस्ताव का उपस्थितजनों ने भी समर्थन किया। बैठक में यह भी निर्णय लिया गया कि इस प्रस्ताव का प्रचार लाउड स्पीकर से पूरे क्षेत्र में किया जाएगा। अभिभावकों से लड़कियों को मोबाइल न देने की भी अपील की गई है।

मुखिया सावित्री देवी ने कहा कि छात्राओं के साथ आए दिन गलत हरकत होने की सूचना मिलती है। इन घटनाओं के पीछे बड़ा कारण मोबाइल है। यही कारण है कि पंचायत ने छात्राओं के मोबाइल रखने पर पाबंदी लगाई है।

गोपालगंज के जिलाधिकारी कृष्णमोहन ने कहा कि पंचायत में ऐसा प्रस्ताव पारित होने की सूचना मिली है, सच्चाई का पता लगाया जा रहा है। उल्लेखनीय है कि पिछले दिनों गोपालगंज जिले की सिंगहा पंचायत ने भी स्कूली छात्राओं के जींस पहनने और मोबाइल रखने पर पाबंदी लगा दी थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.