ताज़ा खबर
 

बिहार: अब हाजीपुर में मॉब लिंचिंग, पति के सामने महिला को निर्वस्त्र कर पीटा, घटना का वीडियो आया सामने

पुलिस का कहना था कि जानकारी पर मामले की जांच जारी है। पीड़ितों के बयान दर्ज कर लिए गए हैं। जो भी दोषी पाया जाएगा, उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी, जबकि पीड़ित पक्ष का कहना है कि पिटाई के दौरान भीड़ ने पीड़िता की चेन, पायल और पैसे छीन लिए।

Author नई दिल्ली | July 20, 2019 4:52 PM
तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है। (फाइल फोटो)

बिहार के अब हाजीपुर में मॉब लिंचिंग का मामला सामने आया है। घटना के दौरान भीड़ ने पति के सामने ही बेहरमी से महिला को लगभग दो घंटों तक निर्वस्त्र कर बुरी तरह पीटा। पति ने बीच-बचाव की कोशिश की, तो उस पर भी हमला हुआ। हालांकि, हैरत की बात यह रही कि उस दौरान ज्यादातर लोग तमाशबीन बने रहे, जबकि कुछ पूरे वाकये की वीडियो रिकॉर्डिंग करते रहे।

अब उसी दौरान का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। बता दें कि इससे पहले हफ्ते में भीड़ द्वारा पीटे जाने के मामले में छपरा और हाजीपुर में करीब चार लोगों की मौत हो गई थी।

दरअसल, हालिया मामले में वैशाली जिला के हाजीपुर स्थित एक धर्मस्थल में किसी महिला की सोने की चेन गायब हो गई थी। पीड़िता पर इसी चोरी का आरोप लगा था। भीड़ इसी को लेकर उस पर आग-बबूला हो गई और जमकर उसकी पिटाई करने लगी। लोगों ने न केवल पीड़िता को निर्वस्त्र किया, बल्कि उसका बलात्कार करने की धमकी तक दे डाली।

बदसलूकी और पिटाई के कुछ देर बाद लोगों ने उसके पति को फोन कर बुलवाया और उसी के सामने महिला को फिर पीटने लगे। तलाशी ली गई, पर उसके पास से चेन नहीं मिली। आश्चर्य की बात है कि ये सब सरेराह होने के बाद भी समय रहते वहां न तो पुलिस पहुंची और न ही कोई आलाधिकारी।

सूचना पर किसी तरह पुलिस ने पीड़िता व पति को अस्पताल भेजा, जहां फिलहाल उन की हालत स्थिर बताई जा रही है। पीड़ित पति के हवाले से न्यूज रिपोर्ट्स में कहा गया कि पत्नी पूजा के लिए मंदिर गई थी, तभी उसे कुछ लोगों ने फोन पर मामले की जानकारी दी और मौके पर बुलाया।

उधर, पुलिस का कहना था कि जानकारी पर मामले की जांच जारी है। पीड़ितों के बयान दर्ज कर लिए गए हैं। जो भी दोषी पाया जाएगा, उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी, जबकि पीड़ित पक्ष का कहना है कि पिटाई के दौरान भीड़ ने पीड़िता की चेन, पायल और पैसे छीन लिए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App