scorecardresearch

लालू यादव के बड़े बेटे का दावा- कई चेहरे करूंगा बेनकाब, गले में तुलसी माला और दिल में पाप लिए ढोंगियों को नर्क भी न होगा नसीब

तेज प्रताप यादव बिहार के समस्तीपुर जिले के हसनपुर विधानसभा से आरजेडी विधायक हैं। बता दें कि बीते कुछ दिनों से तेज प्रताप अपनी ही पार्टी के वरिष्ठ नेताओं से भी नाराज देखे गये हैं।

Tej Pratap Yadav, Nitish kumar, Bihar
तेज प्रताप यादव अक्सर अपने बयानों की वजह से चर्चा में बने रहते हैं(फोटो सोर्स: PTI)।

राष्ट्रीय जनता दल के प्रमुख लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव के मुखर तेवर फिर से दिखने लगे हैं। उन्होंने अपने ट्विटर अकाउंट से कई चेहरों को बेनकाब करने की बात कही है। तेज प्रताप यादव के ट्वीट से बिहार की राजनीति में फिर से हलचल दिखाई दे रही है। बता दें कि यह पहला मौका नहीं है जब तेज प्रताप यादव ने अपने बयान से कयासों का बाजार गर्म कर दिया हो।

26 मार्च को तेज प्रताप यादव ने दो ट्वीट में कई नेताओं के चेहरों को बेनकाब करने की बात कही। पहले ट्वीट में उन्होंने कहा, “वक़्त आ चुका है…एक बड़े खुलासे का,जल्द उन सभी चेहरों से नकाब उतारूंगा…जिन्होंने मुझे नासमझ समझने की भूल की।”

वहीं दूसरे ट्वीट में तेज प्रताप यादव ने लिखा, “गले में तुलसी माला और दिल में पाप….ईश्वर के नाम का सहारा लेने वाले इन ढोंगियों को जल्द सजा मिलेगी..जल्द खुलासा कुछ इस कदर होगा की नर्क भी नसीब ना होगा इनको।” बता दें कि तेजप्रताप यादव अपने मुखर बयानों के लेकर अक्सर चर्चा में रहते हैं।

गौरतलब है कि तेज प्रताप यादव बिहार के समस्तीपुर जिले के हसनपुर विधानसभा से आरजेडी विधायक हैं। बीते कुछ दिनों से तेज प्रताप अपनी ही पार्टी के वरिष्ठ नेताओं से भी नाराज देखे गये हैं। हालांकि यह साफ नहीं हो सका है कि उनका ताजा ट्वीट किसकी तरफ इशारा कर रहा है। दरअसल अपने ट्वीट में उन्होंने किसी दल य नेता का नाम भी नहीं लिखा है।

बता दें कि जहां एक तरफ से तेज प्रताप के इस ट्वीट पर कई तरह के कयास लगाए जा रहे हैं वहीं बीते दिनों में लालू यादव के बड़े बेटे जगदानंद सिंह को लेकर भी काफी चर्चा में रहे।

वहीं आरजेडी में उनकी हाल की गतिविधयों के देखें तो तेज प्रताप यादव का राजद के वरिष्ठ नेताओं से अक्सर मन मुटाव देखने को मिलता रहा है। तेजस्वी यादव के बेहद करीबी व सलाहकार संजय यादव के साथ भी उनकी अनबन की खबरें सामने आती रही हैं। इसके अलावा राजद के कई नेता तेज प्रताप के निशाने पर रहे हैं।

पढें राष्ट्रीय (National News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट