ताज़ा खबर
 

तेजप्रताप-ऐश्वर्या की शादी में पहुंचेंगे 10 हजार मेहमान, लालू का न्योता- सबको बराती बनना है

बिहार के स्वास्थ्य मंत्री रह चुके तेजप्रताप की शादी लालू के पुराने साथी और आरजेडी नेता चंद्रिका रॉय की बेटी ऐश्वर्या के साथ 12 मई (शनिवार) को है। यादव परिवार ने शादी को लेकर बताया कि मेहमानों की संख्या 10 हजार के आस-पास पहुंच चुकी है, जिसमें देश के कई नामचीन नेता भी होंगे।

लालू के गुरुवार को पटना में पहुंचने पर उन्हें व्हीलचेयर पर लेकर जाते परिजन। (फोटोः पीटीआई)

राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के मुखिया लालू प्रसाद यादव के बेटे तेजप्रताप यादव की शादी में 10 हजार मेहमान पहुंचेंगे। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उप-मुख्यमंत्री सुशील मोदी भी होंगे। लालू ने न्योता देते हुए कहा है, “तेजु के शादी में सबको बराती बनना है।” लालू को एयरपोर्ट पर देखकर बेटे तेजप्रताप और तेजस्वी भावुक हो गए थे। दोनों की आंखें उस दौरान नम हो गई थीं।

आपको बता दें कि लालू चारा घोटाले के कई मामलों में सजा काट रहे हैं। गुरुवार (10 मई) शाम वह परोल पर जेल से पटना पहुंचे। आरजेडी मुखिया तीन दिनों के लिए बाहर आए हैं, ताकि वह बड़े बेटे की शादी में शरीक हो सकें। शादी के बाद लालू वापस झारखंड के रांची स्थित बिरसा मुंडा जेल भेज दिए जाएंगे। तेजप्रताप और ऐश्वर्या की सगाई बीते हफ्ते पटना में हुई थी, जिसमें वह शामिल नहीं हो सके थे। कार्यक्रम में तकरीबन 200 मेहमान बुलाए गए थे।

सगाई के दौरान तेजप्रताप को अंगूठी पहनातीं ऐश्वर्या। (फोटोः टि्वटर)

बिहार के स्वास्थ्य मंत्री रह चुके तेजप्रताप की शादी लालू के पुराने साथी और आरजेडी नेता चंद्रिका रॉय की बेटी ऐश्वर्या के साथ 12 मई को है। यादव परिवार ने शादी को लेकर बताया कि मेहमानों की संख्या 10 हजार के आस-पास पहुंच चुकी है, जिसमें देश के कई नामचीन नेता भी होंगे।

लालू की आरजेडी और कांग्रेस से गठबंधन तोड़ने वाले सीएम नीतीश भी राजनीतिक प्रतिद्वंदता को किनारे रखते हुए शादी में पहुंचेंगे। वहीं, बीजेपी के वरिष्ठ नेता सुशील मोदी भी समारोह में शिरकत करेंगे। लालू, उनके बेटों और बेटी मीसा भारती के खिलाफ कई मामलों में जांच शुरू कराने में मोदी की अहम भूमिका रही थी।

लालू ने तेजप्रताप की शादी में शामिल होने के लिए जेल प्रशासन से पांच दिनों का परोल मांगा था। मगर उन्हें तीन दिनों के लिए परोल मिला। यह परोल आरजेडी मुखिया को इस शर्त पर मिला है कि वह इस दौरान पटना में रहेंगे और किसी तरह की बयानबाजी नहीं करेंगे। लालू तकरीबन 138 दिनों बाद अपने आवास पर पहुंचे थे, जहां पर खुशी के मारे उनके आंसू छलक उठे थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App