ताज़ा खबर
 

लड़खड़ाए स्वास्थ्य के बावजूद लालू ने सबको चौंकाया! 85 ऑक्सीजन लेवल के साथ की तय बैठक, सांसें खींच-खींच 2 मिनट तक रखी बात

ऑनलाइन संवाद के दौरान लालू ने अपनी पार्टी के विधायकों से कहा कि वे सुनिश्चित करें कि उनके विधायक निधि का एक-एक पैसा उनके क्षेत्र में व्यय हो रहा है कि नहीं? इसमें किसी प्रकार के घालमेल के प्रति सजग रहें।

Edited By अभिषेक गुप्ता पटना/नई दिल्ली | Updated: May 10, 2021 9:14 AM
बिहार की राजधानी पटना में पार्टी दफ्तर पर RJD नेता लालू प्रसाद यादव। (एक्सप्रेस आर्काइव फोटोः प्रशांत रवि)

राष्ट्रीय जनता दल (RJD) के संस्थापक अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव का स्वास्थ्य रविवार सुबह अचानक लड़खड़ा गया था। बताया जाता है कि उनका ऑक्सीजन लेवल 85 तक आ गया था।

ऐसे में पहले से तय बैठक में उनके हिस्सा लेने की कोई संभावना न थी। फिर भी वह उस बैठक में करीब दो मिनट के लिए शरीक हुए और सबको चौंकाया। लालू ने सांसें खींचते-खींचते वहां अपनी बात रखी। साथ ही पार्टी कार्यकर्ताओं और सभी विधायकों को जीत की बधाई दी और हारे हुए प्रत्याशियों को सराहा। यह तीन साल से अधिक समय बाद जमानत पर रिहा होने के बाद उनका पार्टी कार्यकर्ताओं-नेताओं के साथ संवाद था। हालांकि, लालू की स्थिति इस दौरान कुछ ठीक नहीं नजर आ रही थी। वह सही से बोल नहीं पा रहे थे। आंखों के इर्द-गिर्द के हिस्से में काले घेरे नजर आ रहे थे, जबकि चेहरे की चमक भी दबी नजर आई। सफेद रंग की टीशर्ट में बैठक में मौजूद लालू ने यह भी कहा, “मैं तो बीमार हूं। स्वास्थ्य छीक रहेगा, तो आप लोगों के बीच जरूर आऊंगा।”

लालू की देखभाल कर रहे उनके छोटे बेटे तेजस्वी प्रसाद यादव ने भी इस मीटिंग में कार्यकर्ताओं से बात की। उन्होंने शुरू में ही पिता को अस्वस्थ बताया था। कहा था कि इसी कारण लालू अधिक नहीं बोलेंगे। ऑनलाइन संवाद में राजद के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद और बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने पार्टी के सभी विधायकों और पिछले साल संपन्न बिहार विधानसभा में राजद के प्रत्याशी रहे सभी उम्मीदवारों से अपील की कि वे इस कोविड महामारी के कठिन समय में अपने क्षेत्र के सभी मतदाताओं के प्रति अपने कर्तव्य का पूरी निष्ठा से निर्वहन और सेवा करें।

उन्होंने बिहार में कोरोना के गांवो में भी पैर पसारने और लोगों के बड़ी संख्या में चपेट में आने तथा कहीं कोई जांच नहीं होने का आरोप लगाते हुए सभी श्रोतागण से कहा कि वे अपने क्षेत्रों में अस्थायी राजद कोविड केयर सेंटर स्थापित करें। सभी अपने-अपने विधानसभा क्षेत्र में ऐसे हॉल अथवा स्कूल या सामुदायिक भवनों को चिन्हित करें जिनका राजद कोविड केयर अथवा पृथक-वास केंद्र के रूप में उपयोग किया जा सके।

Lalu Prasad Yadav, RJD, Patna वर्चुअल मीट के दौरान लालू, छोटे बेटे तेजस्वी और अन्य। (फोटोः fb/tejashwiyadav)

उन्होंने कहा कि इसके लिए स्थानीय प्रशासन का सहयोग लेते हुए वहां बिस्तर, ऑक्सिजन सिलेंडर, बिजली आपूर्ति, दवाएं, साफ-सफाई और मरीजों के लिए 24 घंटे डॉक्टरी सलाह सुनिश्चित करवाएं। ऑनलाइन संवाद के दौरान लालू ने अपनी पार्टी के विधायकों से कहा कि वे सुनिश्चित करें कि उनके विधायक निधि का एक-एक पैसा उनके क्षेत्र में व्यय हो रहा है कि नहीं? इसमें किसी प्रकार के घालमेल के प्रति सजग रहें।

उन्होंने पार्टी विधायकों से कहा कि वे अपने अपने क्षेत्र के अस्पतालों, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों की निरन्तर पड़ताल करते रहें। वहां दिखाई देने वाली किसी भी प्रकार की कमी, सरकारी कोताही, प्रशासनिक लीपापोती या कर्मियों द्वारा मरीज़ो व परिजनों की अनदेखी या दुर्व्यवहार का फोटो खिंचवाए, वीडियो बनवाएं और कड़ा विरोध दर्ज करें।

लालू ने कहा कि मरीजों के परिजनों और निर्धन स्थानीय निवासियों के लिए स्थानीय लोगों व प्रशासन के सहयोग से सामुदायिक रसोई की शुरुआत करें। उन्होंने पार्टी विधायकों और नेताओं से कहा कि जितना सम्भव हो सके उतनी संख्या में वे अपने नाम से क्षेत्र में एम्बुलेंस चलवाएं। दवाओं का इंतज़ाम रखें और क्षेत्र में दवाओं की उपलब्धता सुनिश्चित कराने की कोशिश करें। लालू ने महामारी से निपटने में लगे स्वास्थ्यकर्मियों और अग्रिम मोर्चे के कर्मियों का भी आभार जताया।

बता दें कि चारा घोटाला के सभी केसों में झारखंड हाईकोर्ट से लालू को कुछ रोज पहले ही जमानत मिली थी, जिसके बाद वह रिहा हुए थे। मौजूदा समय में मधुमेह, हृदय और गुर्दे की समस्याओं सहित कई अन्य बीमारियों से जूझ रहे हैं। (पीटीआई-भाषा इनपुट्स के साथ)

Next Stories
1 आगे थे कर्जदार शराब कारोबारी, पीछे भीड़ लगा रही थी नारे- “विजय माल्या चोर है, मेरा पइसा दे…”
2 “सबको पाठ पढ़ाते हैं, आपको भी तो कोई नैतिकता का पाठ पढ़ा सकता है”, पत्रकार ने कहा, देखें- क्या आया था BJP के स्वामी का जवाब?
3 डिबेट में बोले मनोचिकित्सक- ये टेंशन का माहौल, मरीज को चाहिए नेगेटिव न्यूज कंज्यूम ना करे, इंटरनेट से रहें दूर
ये पढ़ा क्या?
X