scorecardresearch

बिहारः वीर कुंवर के साथ हुआ अन्याय, आजादी के अमृत महोत्सव में बोले शाह, उधर बीजेपी का दावा 77 हजार झंडे एक साथ फहरा तोड़ा पाक का रिकॉर्ड

पटनाः शाह ने आरा में ऐलान करते हुए कहा कि भारत सरकार वीर कुंवर सिंह के नाम पर स्मारक बनवाएगी। उन्होंने कहा कि आज के युवाओं तक उनकी वीरगाथा पहुंचनी चाहिए।

Amit Shah
केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (फोटो : पीटीआई)

जगदीशपुर के तत्कालीन राजा वीर कुंवर सिंह की 164 वीं पुण्यतिथि के अवसर पर अमित शाह ने कहा कि इतिहासकारों ने कुंवर सिंह को इतिहास में उचित स्थान नहीं दिया। शाह ने आरा में ऐलान करते हुए कहा कि भारत सरकार वीर कुंवर सिंह के नाम पर स्मारक बनवाएगी। उन्होंने कहा कि आज के युवाओं तक उनकी वीरगाथा पहुंचनी चाहिए।

उन्होंने कहा कि पीएम मोदी ने आजादी के 75वें साल में अमृत महोत्सव मनाने का निर्णय किया। वीर कुंवर सिंह ने सर्वोच बलिदान दिया। उनके योगदान को युवा पीढ़ी तक पहुंचाना है। राजा वीर कुंवर सिंह को 1857 के प्रथम स्वाधीनता संग्राम के नायकों में से एक माना जाता है। कार्यक्रम ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ के तहत आयोजित किया गया। सभा के दौरान अमित शाह ने कहा कि भारत माता की ऐसी जयकार करिए कि गूंज कश्मीर से कन्याकुमारी तक जाए। इस दौरान उन्होंने मंच से कई बार भारत माता की जय का उद्घोष किया।

जब 75 हजार से ज्यादा लोगों ने एक साथ लहराया तिरंगा

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह शनिवार को यहां 75,000 से अधिक लोगों द्वारा एक साथ भारत का राष्ट्रीय ध्वज लहराए जाने के साक्षी बने। भारतीय जनता पार्टी का दावा है कि उसने 18 साल पहले पाकिस्तान द्वारा बनाए गए रिकॉर्ड को तोड़कर इतिहास रच दिया है। वंदे मातरम के साथ पूरे पांच मिनट तक तिरंगा लहराया गया। इस दौरान शाह के साथ केंद्रीय मंत्री आरके सिंह और नित्यानंद राय, उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद और रेणु देवी मौजूद रहीं। नीतीश प्रोग्राम में नहीं थे। उनकी गृह मंत्री से पहले ही मुलाकात हो गई थी। वो हवाई अड्डे भी गए थे।

बीजेपी का दावा है कि लोगों की गिनती के लिए बैंड पहनाया गया था। निगरानी के लिए गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड के क्रम में कैमरा ट्रैप लगाया गया। कार्यक्रम स्थल तब लोगों की तालियों से गूंज उठा जब वहां लगे विशाल स्क्रीन पर झंडा लहराने वालों की संख्या 77,700 दिखी। पिछला विश्व रिकॉर्ड 56,000 पाकिस्तानियों द्वारा बनाया गया था जिन्होंने 2004 में लाहौर में एक समारोह में अपना राष्ट्रीय ध्वज लहराया था।

पढें राष्ट्रीय (National News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.