ताज़ा खबर
 

बिहार चुनावः अभी किसी प्रवक्ता को ज्यादा उत्साहित होने की जरूरत नहीं- बोले संबित पात्रा तो मिला ऐसा जवाब

बिहारी में वोटों की गिनती जारी है। रुझानों में तेजस्वी का गठबंधन आगे दिख रहा है। शुरुआती रुझानों पर बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि अभी किसी को उत्साहित होने की जरूरत नहीं है। इसपर कांग्रेस प्रवक्ता ने जवाब दिया।

Bihar Election, sambit patra hathras case uttar pradesh yogi adityanathबीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा की तीखी बहस (फाइल फोटो)

बिहार में वोटों की गिनती जारी है। महागठबंधन रुझानों में आगे नजर आई। इसपर बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा, ‘अभी किसी भी प्रवक्ता को उत्साहित होने की जरूरत नहीं है। 15 वर्षों के बाद किसी भी सरकार के खिलाफ ऐंटी इनकंबेंसी का माहौल रहता है। फिर भी अगर कांटे का टक्कर है तो यह नहीं था। इस बार की काउंटिंग स्लो प्रॉसेस में चलेगा। 10 ईवीएम से ज्यादा मशीन एक बार में नहीं खुल रही है। 2 बजे के आसपास कुछ स्थिति साफ नजर हो पाएगी।’

इस पर कांग्रेस प्रवक्ता रागिनी ने अटल बिहारी वाजपेयी जी के शब्दों में जवाब दिया। ‘न हार में न जीत में, किंचित नहीं भयभीत मैं। कर्तव्य पथ पर जो मिला, यह भी सही वह भी सही।’ उन्होंने कहा, ‘दो करोड़ के जुमले के खिलाफ वोट पड़ा है और 10 लाख नौकरियों के पक्ष में पड़ा है। मोदी जी और नीतीश जी को डबल इंजन की सरकार कहा जा रहा था। आज जब इनके टायर की हवा निकल रही है तो ऐसा नहीं हो सकता कि एक इंजन को बचा लिया जाए और दूसरे को दोष दिया जाए।’

Bihar Election Results Live Updates 

पात्रा ने कहा, ‘कांग्रेस पार्टी कभी नहीं कहती की मोदी जी कमाल के लीडर हैं। इनकी वजह से जीत हुई। कभी कह देती हैं कि ईवीएम की जीत है। कभी कहते हैं गड़बड़ी की है। हां जब मोदी जी हार जाते हैं तो कहते हैं कि यह मोदी जी की हार है। अभी लोकसभा चुनाव में 40 में से 39 सीटें हमारे खाते में आईं। महागठबंधन के लिए जो दिखाया गया था वह भी इस बार दिख नहीं रहा है।’

कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा, जैसा एग्जिट पोल में बताया गया था वैसा ही नतीजों में दिख रहा है। मैं बता दूं कि जब भी गठबंधन होता है तो घटक दलों के गुण और दोष दोनों समाहित होते हैं। रोजगार की बात करें तो मोदी जी के दो करोड़ के वादे को भुला नहीं सकते हैं। बिहार में कहीं पर नीतीश नहीं थे। केवल तेजस्वी और मोदी दिखाई दे रही थे। उन्होंने खुमार बाराबंकवी का शेर बोलकर कहा, ‘हवा को बहुत सरकशी का नशा है, मगर ये न भूलें दीया भी दीया है।’

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 बिहार चुनावः RJD के अब्दुल बारी सिद्दीकी बोले…मोदी को अब भी लग रहा है वह ‘दंगे वाले सीएम’ हैं
2 बिहार चुनाव: बिजली के लिए सालों इंतजार किया…अब हर चीज के लिए नहीं कर सकते, बोले 30 साल से जंग लड़ रहे गांव के लोग
3 Bihar Elections 2020: आजादी का सुख नहीं मिला आज तक…1908 में जन्मे बुजुर्ग ने बयां किया दर्द
यह पढ़ा क्या?
X