ताज़ा खबर
 

बिहार चुनाव: एनडीए ने जारी किया 15 साल के कार्यों का रिपोर्ट कार्ड, बताई नीतीश सरकार के विकास की कहानी

बीजेपी नेता रविशंकर प्रसाद ने कहा कि हम हर घर में बिजली, हर घर पानी पहुंचा रहे हैं, गांवों में ऑप्टिकल फाइबर लगवा रहे हैं तो विपक्ष अपनी विरासत की तस्वीर लगाने में शर्मा रहा है, क्योंकि उससे खौफ, अपहरण, लूट एवं भ्रष्टाचार की याद आएगी।

पटना में शुक्रवार को एनडीए की रिपोर्ट कार्ड जारी करते हुए केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद।

बिहार विधानसभा चुनाव के मद्देनजर एनडीए ने शुक्रवार को पटना स्थित भाजपा के मीडिया सेंटर में अपने 15 साल के कार्यों का रिपोर्ट कार्ड जारी किया। इस दौरान बिहार के चुनाव प्रभारी देवेंद्र फड़णवीस ने बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बिहार में एनडीए प्रत्याशियों के समर्थन में 12 रैलियां करेंगे।

इसकी शुरुआत 23 अक्‍टूबर को सासाराम, गया व भागलपुर से होगी। 28 अक्टूबर को वे दरभंगा, मुजफ्फरपुर एवं पटना, 1 नवंबर को छपरा, पूर्वी चंपारण एवं समस्तीपुर व 3 नवंबर को पश्चिमी चंपारण, सहरसा और फारबिसगंज में चुनावी जनसभा को संबोधित करेंगे।

सभी रैलियों में सोशल डिस्टेंसिंग और प्रशासन के निर्देशों का पालन किया जाएगा। इसके साथ ही रैलियों में आने वाले लोगों की संख्या भी चुनाव आयोग की तरफ से निर्धारित की गई है। इसका पालन किया जाएगा। परंतु प्रधानमंत्री का भाषण ज्यादा से ज्यादा लोग सुन सकें इसके लिए अलग-अलग जगहों पर एलईडी स्क्रीन लगाई जाएगी।

विधि एवं न्‍याय और संचार, इलेक्‍ट्रानिक्‍स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने एक बार फिर साफ किया कि एनडीए पूरी एकजुटता के साथ चुनाव लड़ेगी। हमें पूरा विश्वास है बिहार की जनता का बहुमत हमें मिलेगा।

एक तरफ हम सरकार के द्वारा किए गए कार्यों की चर्चा कर रहे हैं, हर घर बिजली, हर घर पानी पहुंचा रहे हैं, गांवों में ऑप्टिकल फाइबर पहुंचाया जा रहा है, बेटियों को सम्मान दिया जा रहा है। नीतीश कुमार ने बिहार की बच्चियों को साइकिल दी तो नरेंद्र मोदी की सरकार ने देश की बेटियों को एयरफोर्स के फाइटर प्लेन को उड़ाने का मौका दिया।

दूसरी तरफ विपक्ष अपनी विरासत की तस्वीर लगाने में शर्मा रहा है, क्योंकि विरासत की याद दिलाएंगे तो खौफ, अपहरण, लूट एवं भ्रष्टाचार की याद आएगी। उन्होंने कहा कि राजद का जन्म ही नेता को भ्रष्टाचार से बचाने के लिए हुआ था।

राजद के शासन की याद दिलाते हुए रविशंकर प्रसाद ने कहा कि नोखा में जब उन पर हमला हुआ था तो दो महीने तक पुलिस ने बयान तक दर्ज नहीं किया था। लेकिन नीतीश सरकार के आते ही बयान दर्ज किया गया। ऐसा था राजद का शासनकाल।

बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने रिपोर्ट कार्ड पेश करते हुए कहा कि यह बिहार के विकास की कहानी बताता है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में बिहार में जो काम हुए हैं उसके बारे में जानकारी दी गई है। उन्होंने कहा कि इसके माध्यम से हम सरकार की जन-कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी जनता तक पहुंचाएंगे।

जदयू के नेता और बिहार सरकार में जल संसाधन मंत्री संजय झा ने कहा कि बिहार में पहले चुनाव जाति के नाम पर होते थे, लेकिन एनडीए सरकार के आने के बाद अब विकास के नाम पर चुनाव होते हैं।

राजद पर प्रहार करते हुए उन्होंने कहा कि राजद की केवल पीढ़ी बदली है प्रवृति नहीं। उनके 15 वर्षों के शासन में बिहार से काफी पलायन हुए लेकिन एनडीए के आने के बाद बिहार की तस्वीर बदल गई है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 बिहार विधानसभा चुनाव में खूब उड़ाई जा रही हैं ‘सुरक्षित दूरी’ की धज्जियां
2 मध्य प्रदेश: मनरेगा कार्ड में एक्ट्रेस का फोटो, उस कार्ड पर भुगतान भी कर दिया
3 मथुरा: श्री कृष्ण जन्मभूमि विराजमान की अपील कोर्ट ने की स्वीकार, 18 नवंबर को होगी सुनवाई
यह पढ़ा क्या?
X