ताज़ा खबर
 

पैरोडी अटैक पर मोदी का जवाब- चुनाव बाद नीतीश के पास बचेगा सिर्फ गाना गाने का काम, महागठबंधन थ्री-ईडियट

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को बिहार के सीतामढ़ी में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए नीतीश कुमार और लालू यादव पर जोरदार हमला बोला। डुमरा हवाई अड्डा मैदान में भाषण देते हुए मोदी ने कहा कि महागठबंधन के नेताओं के बीच लोगों का मनोरंजन करने की होड़ लगी हुई है। उन्‍होंने महागठबंधन को परोक्ष रूप से 'थ्री-ईडियट' तक कह दिया।

Author सीतामढ़ी (बिहार) | October 27, 2015 1:38 PM
बिहार के सीतामढ़ी में रैली संबोधित करते नरेंद्र मोदी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को बिहार के सीतामढ़ी में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए नीतीश कुमार और लालू यादव पर जोरदार हमला बोला। डुमरा हवाई अड्डा मैदान में भाषण देते हुए मोदी ने कहा कि महागठबंधन के नेताओं के बीच लोगों का मनोरंजन करने की होड़ लगी हुई है। उन्‍होंने महागठबंधन को परोक्ष रूप से ‘थ्री-ईडियट’ तक कह दिया। दरअसल, पीएम मोदी सोमवार को किए गए नीतीश कुमार के ‘पैरोडी अटैक’ पर जबर्दस्‍त पलटवार किया। उन्‍होंने कहा कि ‘अभी तक तो मैंने लालूजी को लोगों का मनोरंजन करते हुए देखा था, लेकिन आजकल तो नीतीश कुमार भी मुशायरा करने लगे हैं। मोदी ने कहा कि नीतीश ने जिस फिल्म के गाने की लाइन्स बोली थीं, उसका नाम ‘थ्री इडियट’ है और महागठबंधन में भी तीन पार्टनर हैं। नरेंद्र मोदी ने नीतीश के गाना गाने पर चुटकी लेते हुए कहा कि चुनाव के बाद उनके पास बस यही करने को रह जाएगा।

सुनें पीएम मोदी का पूरा भाषण 

नीतीश ने सोमवार को ऐसे किया था मोदी पर पैरोडी अटैक

नीतीश कुमार ने पीएम मोदी के भाषण के बाद सोमवार को प्रेस कॉन्‍फ्रेंस आयोजित की और गाने की लाइनें सुनाने लगे। उन्होंने कहा कि लद्दाख में निगम चुनाव की जीत पर पीएम बताते हैं कि हवा है, वहीं से हवा उड़कर यहां आती है। इस पर ही ये लाइनें याद आ गईं।

बहती हवा सा था वो,
गुजरात से आया था वो,
कालाधन लाने वाला था वो,
कहां गया उसे ढूंढो?
हमको देश की चिंता सताती है,
विदेश दौरे पर चला जाता है वो,
हमको महंगाई की चिंता सताती थी, मन की बात सुनाता था वो,
कहां गया उसे ढूंढो? हर वक्त सेल्फी खींचता था वो,
दाऊद को लाने वाला था वो, कहां गया उसे ढूंढो?

पीएम मोदी ने किए कई वादे

सीतामढ़ी रैली में नरेंद्र मोदी ने जनता से कई वादे किए। उन्‍होंने कहा कि उनका लक्ष्‍य 2019 तक बिहार के हर गांव तक बिजली पहुंचाना है और 2022 तक वह हर घर को बिजली देना चाहते हैं। उन्‍होंने इस कार्य के लिए हर जिले में 250-300 करोड़ रुपया खर्च किया जाएगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories