पेगासस पर बिहार के सीएम दिखे विपक्ष के साथ तो बोले लालू प्रसाद- नीतीश मेरे दिल में रहते हैं

राजद नेता बोले- रिश्ते तो बनते-बिगड़ते रहते हैं, और हम लोग तो साथ में रहे हैं। उनके बयान से किसी बड़े राजनीतिक बदलाव के कयास लगाए जाने लगे हैं।

RJD, JDU, PEGASUS
राजद नेता लालू प्रसाद यादव और बिहार के सीएम नीतीश कुमार। (Photo Source: Express photo by Prashant Ravi)

राजनीति में कब कौन किधर रुख कर सकता है, यह समझ पाना बहुत आसान नहीं है, लेकिन यह तय है कि राजनीति में कुछ भी स्थायी नहीं है। पेगासस जासूसी मुद्दे की जांच कराने को लेकर कई दिनों से संसद के अंदर और बाहर विपक्ष सरकार पर दबाव बनाने में लगी है। इसको लेकर बार-बार संसद की बैठक भी स्थगित हो रही है।

इस बीच बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी विपक्ष के सुर में सुर मिलाते हुए सरकार से इसकी जांच कराने की मांग करके सरकार के लिए नई मुसीबत खड़ी कर दी है। नीतीश के इस रुख से राजद नेता लालू प्रसाद यादव ने खुशी जताई है। उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार हमारे दिल में रहते हैं। बोले- रिश्ते तो बनते-बिगड़ते रहते हैं, और हम लोग तो साथ में रहे हैं। इससे राजनीति में फिर किसी बड़े बदलाव की आशंका बढ़ती जा रही है।

समाजवादी नेता शरद यादव से मिलने पहुंचे लालू प्रसाद यादव ने बाद में मीडिया से बातचीत में नीतीश के बारे में अपनी राय रखी। हालांकि उन्होंने इस सवाल का कोई जवाब नहीं दिया कि क्या जल्द ही उनकी पार्टी और नीतीश कुमार के बीच कोई गठजोड़ संभव है। फिलहाल नीतीश कुमार की पार्टी जदयू बिहार और केंद्र दोनों जगह एनडीए का हिस्सा है।

लालू के बयान का इसलिए भी महत्वपूर्ण है क्योंकि अभी हाल ही में उनके बेटे और बिहार विधानसभा में विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव सीएम नीतीश कुमार से मुलाकात कर पीएम मोदी से मिलने का आग्रह किया था। उनका कहना था कि एक प्रतिनिधिमंडल के साथ पीएम से मिलकर देश में जाति आधारित जनगणना कराने की मांग करने के लिए दबाव बनाएं।

इस मुद्दे पर नीतीश कुमार तेजस्वी यादव के साथ पूरी सहमति जताते हुए न केवल उनकी मांग को स्वीकार किया, बल्कि दिल्ली में उनकी पार्टी जेडीयू ने भी अपनी राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में जाति आधारित जनगणना के पक्ष में और यूपी सरकार द्वारा लाए गए आबादी नियंत्रण वाले कानून के खिलाफ प्रस्ताव पारित किया।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।