ताज़ा खबर
 

भागकर शादी नहीं की तो लड़का चाकू ले लड़की के घर पहुंचा, खैरियत पूछी और मार डाला

जाति अलग होने के कारण अंशु के घर वालों ने संदीप के साथ शादी से इनकार कर दिया था। संदीप अंशु के साथ भागकर शादी करना चाहता था लेकिन प्रेमिका ने ऐसा करने से इनकार कर दिया। जिससे नाराज़ होकर संदीप अंशु के घर पहुंचा, उसका हालचाल जाना और चाकू निकाल कर उसका गला रेत डाला।

Author Edited By सिद्धार्थ राय नई दिल्ली | Updated: January 23, 2021 12:08 PM
crime, crime newsतस्वीर का इस्तेमाल प्रस्तुतीकरण के लिए किया गया है।

बिहार के जक्कनपुर से एक दिल दहला लेने वाली घटना सामने आई है। यहां एक प्रेमी ने अपनी प्रेमिका की दिन दहाड़े चाकू से गला रेतकर हत्या कर दी। पश्चिमी जयप्रकाश नगर की कदमगली में 10वीं की छात्रा अंशु की हत्या के आरोपी संदीप काे पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने उसे बिहारशरीफ स्थित किराया के घर से गिरफ्तार किया है।

दरअसल संदीप और अंशु एक-दूसरे से प्रेम करते थे। मैट्रिक की परीक्षा के बाद अंशु की शादी होने वाली थी। जाति अलग होने के कारण अंशु के घर वालों ने संदीप के साथ शादी से इनकार कर दिया था। संदीप अंशु के साथ भागकर शादी करना चाहता था लेकिन प्रेमिका ने ऐसा करने से इनकार कर दिया। जिससे नाराज़ होकर संदीप अंशु के घर पहुंचा, उसका हालचाल जाना और चाकू निकाल कर उसका गला रेत डाला।

‘दैनिक भास्कर’ की एक रिपोर्ट के मुताबिक संदीप अंशु के घर पहुंचा और उसकी खैरियत पूछी। इसके बाद उसने पूछा कि तुम मुझसे शादी नहीं करोगी तो अंशु ने माता-पिता की दुहाई दी और कहा कि मेरी शादी तय होने वाली है। इसके बाद अंशु ने संदीप से पूछा कि तुम यहां क्यों आए हो? जवाब में संदीप ने जेब से चाकू निकालते हुए कहा-तुम्हारी हत्या करने। अंशू इससे पहले कि कुछ समझ पाती या हल्ला करती संदीप ने उसके गर्दन पर चाकू चला दिया। संदीप के लगातार दो वार करने से अंशु वहीं अचेत होकर गिर गई। इसके बाद संदीप वहां से निकल कर भाग गया।

पूछताछ में संदीप ने पुलिस को बताया कि उसने एक महीने पहले चंडी की एक स्टेशनरी दुकान से 20 रुपए में पैंसिल छीलने और कागज काटने वाला चाकू खरीदा था। उसने पूछताछ में कहा कि वह एक महीने से अंशु की हत्या की प्लानिंग कर रहा था लेकिन मौका नहीं मिल रहा था। जब उसे पता चला कि अंशु गुरुवार को घर में अकेली रहेगी तो तय कर लिया कि वह उसे मार देगा।

हत्या की घटना के 24 घंटे के अंदर ही पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। घटना के बाद पुलिस ने माेहल्ले से ही एक सीसीटीवी फुटेज बरामद किया। फुटेज में संदीप घटना को अंजाम देकर भागता दिख रहा था। पुलिस ने फुटेज को अंशु के पिता मिथिलेश राम को दिखाया। मिथिलेश ने ही युवक को पहचाना।

Next Stories
1 ट्रैक्टर जुलूस : आज दिल्ली कूच करेंगे पंजाब व हरियाणा के किसान, 30,000 से अधिक ट्रैक्टर बनेंगे परेड का हिस्सा
2 गांधी-गोडसे का जिक्र कर दिग्विजय सिंह ने बताया धार्मिकता और धर्मांधता में फर्क, ट्रोल
3 नेताजी की जयंतीः महानायक में देशभक्ति कूट-कूट कर भरी थी- रजत शर्मा का ट्वीट, लोग लेने लगे मजे
ये पढ़ा क्या?
X