ताज़ा खबर
 

Bihar Assembly Election: ‘तेजस्वी राजद के सीएम कैंडिडेट हो सकते हैं गठबंधन के नहीं’, बिहार कांग्रेस अध्यक्ष ने दिया बड़ा झटका

Bihar Assembly Election: गठबंधन की अन्य पार्टियां रालोसपा, विकासशील इंसान पार्टी और जीतनराम मांझी के नेतृत्व वाली हम पार्टी ने भी अभी तेजस्वी यादव को सीएम कैंडिडेट बनाने को लेकर साफ-साफ कुछ नहीं कहा है।

bihar election, bihar assembly election, tejashwi yadav, bihar congress,बिहार चुनाव में अब ज्यादा वक्त नहीं बचा है लेकिन अभी तक महागठबंधन में सीएम कैंडिडेट को लेकर एकराय नहीं बन सकी है। (पीटीआई फोटो)

Bihar Assembly Election: बिहार विधानसभा चुनाव नजदीक है लेकिन अभी तक महागठबंधन में सीएम कैंडिडेट को लेकर एकराय नहीं बन पायी है। गठबंधन की सबसे बड़ी पार्टी राजद काफी पहले ऐलान कर चुकी है कि तेजस्वी यादव सीएम पद के उम्मदीवार होंगे लेकिन अब बिहार कांग्रेस के अध्यक्ष ने अपने एक बयान में कहा है कि ‘तेजस्वी यादव राजद के सीएम कैंडिडेट हो सकते हैं, गठबंधन के नहीं।’

बता दें कि गठबंधन की अन्य पार्टियां रालोसपा, विकासशील इंसान पार्टी और जीतनराम मांझी के नेतृत्व वाली हम पार्टी ने भी अभी तेजस्वी यादव को सीएम कैंडिडेट बनाने को लेकर साफ-साफ कुछ नहीं कहा है। अब प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने भी साफ कर दिया है कि तेजस्वी यादव को सीएम कैंडिडेट बनाने को लेकर अभी गठबंधन में सहमति नहीं बनी है।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मदन मोहन झा ने एबीपी न्यूज के साथ बातचीत में कहा कि तेजस्वी यादव राजद के नेता हैं और राजद ने उन्हें सीएम कैंडिडेट घोषित किया है। हम लोगों के नेता सोनिया जी, राहुल गांधी हैं और जब हम उस स्थिति में आएंगे तो इस पर पार्टी नेतृत्व के साथ चर्चा कर कोई फैसला लिया जाएगा। मदन मोहन झा से जब पूछा गया कि क्या तेजस्वी गठबंधन के नेता नहीं हैं? इसके जवाब में मदन मोहन झा ने कहा कि क्या कभी तेजस्वी या उनकी पार्टी के नेता ने कहा है कि वह गठबंधन के नेता हैं?

झा ने कहा कि महागठबंधन के नेता पर अभी कोई फैसला नहीं हुआ है। मदन मोहन झा ने ये भी स्वीकार किया कि गठबंधन के बीच संवाद हीनता की स्थिति है। अभी तक गठबंधन के बीच सीटों के बंटवारे को लेकर कोई बातचीत नहीं हुई है। बीते दिनों गठबंधन की तरफ से शरद यादव को सीएम पद का कैंडिडेट बनाए जाने की चर्चा शुरू हुई थी। हालांकि शरद यादव ने खुद ही इससे इंकार करते हुए तेजस्वी यादव के नेतृत्व पर भरोसा जताया था।

गठबंधन में जहां संवादहीनता और समन्वय की कमी दिखाई दे रही है, वहीं एनडीए की तरफ से नीतीश कुमार को ही सीएम कैंडिडेट पेश किया जा रहा है। भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा भी साफ कर चुके हैं कि बिहार चुनाव में नीतीश कुमार ही एनडीए की तरफ से सीएम कैंडिडेट होंगे।

Next Stories
1 ‘विदेश नीति पर फिर से विचार करे मोदी सरकार’, बीजेपी सांसद ने नेपाल सरकार की रूखी कार्रवाई पर की मांग
2 सवा तीन लाख करोड़ के क़र्ज़दार हैं मुकेश अंबानी, Jio की 22% हिस्सेदारी से ही आए 1.02 लाख करोड़ रुपए
3 ‘दिल्ली में अगले 6 दिनों में तीन गुना होगी टेस्टिंग, दो दिन में ही करेंगे दोगुने परीक्षणों का इंतजाम’, केजरीवाल से मुलाकात के बाद बोले अमित शाह
कोरोना LIVE:
X