ताज़ा खबर
 

मुफ्त टीके के वादे पर राहुल गांधी का भाजपा पर तंज, अपने-अपने राज्य के चुनाव की तारीख देखकर जानें कब मिलेगी वैक्सीन

राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा, 'भारत सरकार ने कोरोना वायरस के टीके तक लोगों की पहुंच से जुड़ी अपनी रणनीति की घोषणा कर दी है। कृपया यह जानने के लिए राज्यवार चुनाव कार्यक्रमों का सहारा लें कि यह आपको दूसरे फर्जी वादों के पिटारे के साथ कब मिलेगा।'

bihar elections 2020कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी। (पीटीआई)

भाजपा ने बिहार विधानसभा चुनाव के अपने संकल्प पत्र में आईसीएमआर की मंजूरी मिलने के बाद कोविड-19 के टीके का बड़े पैमाने पर उत्पादन शुरू होने पर बिहार के लोगों को नि:शुल्क टीका देने का वादा किया है। भाजपा के इस चुनावी वादे पर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने निशाना साधा है। उन्होंने गुरुवार (22 अक्टूबर, 2020) को कहा कि भारत सरकार ने कोविड-19 के टीके तक पहुंच की रणनीति की घोषणा कर दी है। अब लोग इसे हासिल करने की जानकारी के लिए राज्यवार चुनाव कार्यक्रमों पर गौर कर सकते हैं।

केरल के वायनाड से सांसद राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा, ‘भारत सरकार ने कोरोना वायरस के टीके तक लोगों की पहुंच से जुड़ी अपनी रणनीति की घोषणा कर दी है। कृपया यह जानने के लिए राज्यवार चुनाव कार्यक्रमों का सहारा लें कि यह आपको दूसरे फर्जी वादों के पिटारे के साथ कब मिलेगा।’ कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने भी चुनावी वादे पर केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने तो कोरोना की वैक्सीन नहीं ढूंढी, पर बिहार की जनता ने बिहार बचाने की ‘वैक्सीन’ जरूर ढूंढ ली है। जेडीयू-भाजपा भगाओ, महागठबंधन सरकार लाओ।

इधर राहुल गांधी के ट्वीट पर सोशल मीडिया यूजर्स भी जमकर प्रतिक्रिया दे रहे हैं। आयरन गर्ल @lohewaliladki नाम से एक ट्विटर यूजर लिखती हैं, ‘साहब! आपके वादों का क्या करें। जैसे कि 10 दिन में कर्ज माफ, आलू से सोना बनाने की मशीन और भी बहुत कुछ। या फिर अपने तेज दिमाग का उपयोग कर आप ही वैक्सीन बना दो… क्या पता किसी जानवर के काम आ जाए।’ हाशिम @MD___hashim लिखते हैं, ‘मोदी फेंकते हैं। इनकी बातों को सीरियस मत लो। ये मोदी कुछ भी फेंक देते हैं। 2014 में सबको 15 लाख देने का वादा किया था वो भी जुमला निकला।’

इसी तरह पुरुषोत्तम @iArmysupportar लिखते हैं, ‘मोदी समय समय पर विभिन्न मुद्दों पर मन की बात या मीडिया चैनलों के माध्यम से जनता से जुड़ाव रखते है, देश के पीएम से इसी तरह की अपेक्षा रहती है लेकिन कांग्रेसी व अन्य विपक्षी दलो के नेता मोदी के हर कदम की आलोचना करके बार बार सत्ता जाने की कुंठा और छोटी मानसिकता दर्शाते रहते है।’ बलिराम यादव @Baliramyadav007 लिखते हैं, ‘नेहरू/इंदिरा/राजीव चीन को भारत की भूमि देते रहे, नक्सलवाद के साथ सत्ता चलाते रहे।  लालू/राबड़ी ने भी इनके साथ जनविकास को अवरुद्ध कर वर्षों लालटेन युग बनाए रखा। राहुल/तेजस्वी इन्हीं ताकतों के साथ हैं, जिन्हें मोदी का जनविकास फूटी आंख नहीं सुहाता।’

बता दें कि बिहार विधानसभा चुनाव के लिए भाजपा का ‘संकल्प पत्र’ जारी करते हुए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने गुरुवारा को पटना में कहा कि कि जब तक कोरोना वायरस का टीका नहीं आता है, तब तक मास्क ही टीका है, लेकिन जैसे ही टीका आ जाएगा तो भारत में उसका उत्पादन बड़े स्तर पर किया जाएगा। उन्होंने यह भी कहा कि हमारा संकल्प है कि जब टीका तैयार हो जाएगा तब हर बिहारवासी को कोरोना वायरस का टीका मुफ्त में उपलब्ध कराया जाएगा।

Next Stories
1 Indian Railways: यात्रियों के लिए अच्छी खबर, कालका-शिमला एक्सप्रेस फिर से शुरू, जानिए डिटेल्स
2 चुनावी गणित की वजह दम तोड़ रही कल्याणकारी योजनाएं, अमेरिकी एक्सपर्ट ने बताई ये वजह
3 आजमगढ़ के आतंकियों को लिए सोनिया गांधी का दिल रोता था, डिबेट में बोले संगीत रागी तो कांग्रेसी प्रवक्ता ने दिया ये जवाब
IPL 2021 LIVE
X