ताज़ा खबर
 

बीजेपी के साथ हमेशा सहज रहे हैं नीतीश कुमार, कांग्रेस विरोध उनके खून में है: सुशील मोदी

सुशील मोदी ने कहा, "नीतीश कुमार सबसे ज्यादा सहज तब थे जब वाजपेयी सरकार में रेल मंत्री थे। वो उनके राजनीतिक जीवन का स्वर्ण काल था।"

Author Updated: July 14, 2017 12:53 PM
gujarat election, gujrat election results, gujrat chunva, election results, gujarat election result, gujarat chunav, gujarat chunav result, gujarat election result 2017, election result, chunav, chunav result, Sushil Kumar Modi, Sushil Kumar Modi Statement, RAM Has Won on HAJ, गुजरात विधानसभा चुनाव, गुजरात विधानसभा चुनाव 2017, गुजरात इलेक्शन रिजल्ट, इलेक्शन रिजल्ट, इलेक्शन, गुजरात इलेक्शन रिजल्ट 2017, गुजरात विधानसभा चुनाव, गुजरात चुनाव नतीजे, गुजरात चुनाव नतीजे 2017, gujarat vidhan sabha chunav, Gujarat assembly election result, gujarat election result, गुजरात इलेक्शन रिजल्ट, गुजरात इलेक्शन रिजल्ट 2017, gujarat chunav result, Gujarat chunav natija, Gujarat election 2017 resultGujarat Election Result 2017: सुशील कुमार मोदी (पीटीआई फाइल फोटो)

बिहार के सत्ताधारी महागठबंधन के भविष्य को लेकर लगाई जा रही अटकलों के बीच बीजेपी के वरिष्ठ प्रदेश नेता सुशील मोदी ने कहा है कि नीतीश कुमार बीजेपी के साथ हमेशा “सहज” रहे हैं क्योंकि “कांग्रेस-विरोध उनके खून में है।” बिहार के पूर्व उप-मुख्यमंत्री सुशील मोदी गुरुवार (13 जुलाई) को इंडियन एक्सप्रेस के साप्ताहिक कार्यक्रम आइडिया एक्सप्रेस अड्डा में बोल रहे थे। साल 2015 के विधान सभा चुनाव में नीतीश की जदयू ने कांग्रेस और लालू यादव की राजद के साथ मिलकर बीजेपी के खिलाफ महागठबंधन बनाकर चुनाव लड़ा और जीता था। पिछले कुछ दिनों से अटकलें लगाई जा रही हैं कि जदयू लालू के बेटे और राज्य के डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव के खिलाफ सीबीआई द्वारा भ्रष्टाचार की एफआईआर दर्ज किए जाने के बाद उनके इस्तीफा मांग सकती है।

जब सुशील मोदी से पूछा गया कि क्या नीतीश दोबारा बीजेपी के संग गठबंधन कर सकते हैं? इस पर मोदी ने कहा, “नीतीश कुमार बीजेपी के साथ हमेशा सहज रहे हैं और वो सबसे ज्यादा सहज तब थे जब वाजपेयी सरकार में रेल मंत्री थे। वो उनके राजनीतिक जीवन का स्वर्ण काल था।” सुशील मोदी ने पिछले कुछ समय में लालू यादव और उनके परिवार के अन्य सदस्यों के खिलाफ कई आरोप लगाए हैं। मोदी के आरोपों के बाद सीबीआई ने लालू यादव से जुड़ी हुई कई परिसंपत्तियों पर छापा मारा और एफआईआर दर्ज की। सुशील मोदी ने इंडियन एक्सप्रेस के कार्यक्रम में ये भी संकेत दिया कि उन्हें लालू यादव के खिलाफ सबूत नीतीश सरकार में शामिल लोगों से भी मिलते रहे हैं।

सुशील मोदी ने बिहार में जदयू के साथ गठबंधन को लेकर कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बीजेपी के साथ गठबंधन में ज्यादा अच्छा प्रदर्शन करते रहे हैं। सुशील मोदी ने कहा, “वो बीजेपी के साथ 1996 से 2013 तक 17 साल रहे हैं। उन्होंने सीएम के तौर पर जो भी कमाया था उसे अब गंवा रहे हैं। उन्होंने अपने सुशासन की वजह से जो भी कमाया था वो बीजेपी के साथ काम करके हासिल किया था।” जब सुशील मोदी से पूछा गया कि क्या बीजेपी जदयू से गठबंधन करने जा रही है? इस पर उन्होंने कहा कि ये वक्त बताएगा।

नीतीश कुमार ने साल 2014 में नरेंद्र मोदी को बीजेपी का प्रधानमंत्री उम्मीदवार बनाए जाने के खिलाफ ही 17 साल पुराना गठबंधन तोड़ा था। ऐसे में वो नरेंद्र मोदी के पीएम रहते हुए कैसे वापस आ सकते हैं? इस पर सुशील मोदी ने ममता बनर्जी, बीजद की नवीन पटनायक और मायावती की बसपा का उदाहरण देते हुएने कहा कि कई क्षेत्रीय पार्टियां अलग-अलग समय पर बीजेपी के साथ रही हैं और अलग-अलग कारणों से उससे अलग हो गईं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 राष्ट्रपति चुनाव: आम आदमी पार्टी ने की मीरा कुमार को समर्थन देने की घोषणा
2 राहुल गांधी ने नोटबंदी को लेकर नरेंद्र मोदी पर ली चुटकी, लोगों से कहा- पीएमओ में वैकेंसी है, अप्‍लाई कर दो
3 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नहीं बल्कि इस शख्स से रोज बात करते हैं अमित शाह, जानिए क्यों
ये पढ़ा क्या?
X