ताज़ा खबर
 

विश्व परिक्रमा: बाइडन, हैरिस की शीर्ष प्राथमिकताओं में कोविड-19

अमेरिका दुनिया में कोरोना वायरस महामारी से सर्वाधिक बुरी तरह प्रभावित देशों में शामिल है और यहां संक्रमण के 98 लाख से अधिक मामले हैं और वायरस से दो लाख 37 हजार से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। बाइडन- हैरिस प्रशासन के लिए आर्थिक पुनर्बहाली दूसरी शीर्ष प्राथमिकता है।

Author November 10, 2020 1:47 AM
अमेरिकी नवनिर्वाचित राष्‍ट्रपति जो बाइडन की सर्वोच्‍च प्राथमिकता में कोबिड-19। फाइल फोटो।

बाइडन प्रशासन के लिए कोविड-19 महामारी से निपटना, आर्थिक संकट से उबरना, नस्ली भेदभाव दूर करना और जलवायु परिवर्तन का मुद्दा उनकी शीर्ष प्राथमिकताओं में शामिल होगा। यह जानकारी उनकी टीम ने दी। निर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडन और निर्वाचित उपराष्ट्रपति कमला हैरिस हर चीज को ‘पहले से बेहतर’ बनाने के लिए तैयारी में जुट गए हैं।

वोटों की गिनती के तनावपूर्ण साह के बाद डेमोक्रेटिक पार्टी से राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार बाइडन (77) ने शनिवार को पेन्सिलवेनिया राज्य में महत्त्वपूर्ण जीत हासिल की और अमेरिका का अगला राष्ट्रपति बनने की दौड़ में आगे निकल गए।

महत्त्वपूर्ण राज्य में जीत के बाद बाइडन निर्णायक 270 चुनावी मत हासिल कर चुके हैं और निवर्तमान राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के लिए दोबारा शीर्ष पद पर पहुंचने के सारे रास्ते बंद हो चुके हैं। बाइडन की टीम ने वेबसाइट पर अपनी प्राथमिकताएं दिखाई हैं जिनमें आगामी प्रशासन चार क्षेत्रों पर मुख्य रूप से कार्य करेगा – कोविड-19, आर्थिक पुनर्बहाली, नस्ली समानता और जलवायु परिवर्तन।उनकी टीम ने अगले प्रशासन के लिए प्राथमिकताएं गिनाते हुए बताया, ‘पहले जिन क्षेत्रों में काम हुए हम महज उन्हीं पर फिर से काम नहीं करने जा रहे हैं।

यह हमारे लिए पहले से बेहतर बनाने का अवसर है।’ टीम ने कहा, ‘निर्वाचित राष्ट्रपति बाइडन और निर्वाचित उपराष्ट्रपति हैरिस के समक्ष महामारी, आर्थिक संकट, नस्ली समानता और जलवायु परिवर्तन जैसे मुद्दे हैं। टीम पहले दिन से ही इन चुनौतियों पर काम करेगी।’ इसने कहा कि पद की शपथ लेते ही बाइडन और हैरिस महामारी संकट से निपटने की आवश्यकता पर बल देंगे।

अमेरिका दुनिया में कोरोना वायरस महामारी से सर्वाधिक बुरी तरह प्रभावित देशों में शामिल है और यहां संक्रमण के 98 लाख से अधिक मामले हैं और वायरस से दो लाख 37 हजार से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। बाइडन- हैरिस प्रशासन के लिए आर्थिक पुनर्बहाली दूसरी शीर्ष प्राथमिकता है।

इसने कहा कि संकट के इस समय में निर्वाचित राष्ट्रपति बाइडन के लिए लाखों अच्छी नौकरियां देने, कामगारों के लिए संगठनों को आसानी से संयोजित करने और अमेरिका के कामकाजी परिवारों को उपकरण, विकल्प तथा स्वतंत्रता मुहैया कराना है ताकि वे बेहतर तरीके से फिर से काम कर सकें।

Next Stories
1 सम-सामयिक- ‘कफाला’ प्रणाली : बदलाव से होगा भारतीयों को फायदा
2 शोध: स्वदेशी सुपरकंप्यूटर के उत्पादन की तैयारी में भारत
3 जानें-समझें: अमेरिका में बाइडेन-हैरिस, भारत के लिए कितनी मुफीद सियासी जोड़ी
यह पढ़ा क्या?
X