ताज़ा खबर
 

भीमा-कोरेगांव हिंसा: मोदी राज के खात्‍मे के लिए खरीदे जाने वाले थे ग्रेनेड लॉन्‍चर्स! पुलिस ने जारी किया लेटर

पत्र में लिखा गया था, ''मुझे उम्मीद है कि ग्रेनेड लांचर की वार्षिक आपूर्ति के लिए आपको 8 करोड़ रुपये की आवश्यकता का विवरण प्राप्त हुआ है। कामरेड किशन और अन्य ने राजीव गांधी की घटना की तरह मोदी राज को खत्म करने के लिए कदम उठाना प्रस्तावित किया है।''

पीएम नरेंद्र मोदी। (एक्सप्रेस फाइल फोटो)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हत्या को लेकर साजिश मामले में महाराष्ट्र पुलिस ने बड़ा खुलासा किया है। पुलिस का कहना है कि पीएम मोदी की हत्या के लिए ग्रेनेड लॉन्चर्स खरीदे जाने वाले थे। महाराष्ट्र पुलिस के अतिरिक्त महानिदेशक पीवी सिंह ने मीडिया को बताया कि रोना विल्सन ने कामरेड प्रकाश को एक पत्र लिखा था। पत्र में लिखा गया था, ”मुझे उम्मीद है कि ग्रेनेड लांचर्स की वार्षिक आपूर्ति के लिए आपको 8 करोड़ रुपये की आवश्यकता का विवरण प्राप्त हुआ है। कामरेड किशन और अन्य ने राजीव गांधी की घटना की तरह मोदी राज को खत्म करने के लिए कदम उठाने प्रस्ताव दिया है।” एएनआई के अनुसार पुलिस के अतिरिक्त महानिदेशक पीवी सिंह ने बताया कि 18 अप्रैल 2017 को पत्र लिखा गया था। बता दें कि पेशे से लेखक और मानवाधिकार कार्यकर्ता रोना विल्सन को भीमा-कोरेगांव हिंसा मामले में जून में दिल्ली के मुनिरका स्थित एक फ्लैट से गिरफ्तार किया गया था। पुणे पुलिस और दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने एक ज्वाइंट ऑपरेशन में रोना विल्सन को दबोचा था।

रोना विल्सन के आवास से मिले पत्र को अदालत में भी पेश किया गया था। पत्र में लिखी बातों का हवाला देते हुए पुणे पुलिस ने कोर्ट में दावा किया था कि रोना विल्सन के तार नक्सलियों से जुड़े हैं और माओवादी पूर्व पीएम राजीव गांधी की हत्या की तर्ज पर पीएम मोदी की हत्या की साजिश रच रहे हैं। पुलिस ने भीमा-कोरेगांव हिंसा मामले में रोना विल्सन के अलावा एक्टिविस्ट सुधीर धावले, वकील सुरेंद्र गडलिंग, एक्टिविस्ट महेश राउत, शोमा सेन को गिरफ्तार किया था।

सोर्स- एएनआई

सरकारी वकील उज्ज्वला पवार ने कोर्ट में बताया था कि पत्र में लिखा है, ”हम राजीव गांधी वाली घटना की तरह कुछ सोच रहे हैं। यह आत्मघाती लगता है और खतरनाक भी। हो सकता है कि हम फेल हो जाएं लेकिन पार्टी को हमारी इस योजना के बारे में सोचना चाहिये।” पत्र में कहा गया था कि बिहार और पश्चिम बंगाल में हार के बाद भी मोदी ने 15 राज्यों में बीजेपी की सरकारें बनवा दी हैं। अगर ऐसा जारी रहा तो हर मोर्चे पर मुश्किल पैदा हो जाएगी। कर्नल किशन और अन्य वरिष्ठ कामरेड ने मोदी राज को खत्म करने के लिये मजबूत कदम उठाने का प्रस्ताव दिया है।

बीते मंगलवार (28 अगस्त) को पुणे पुलिस ने भीमा-कोरेगांव हिंसा, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हत्या की साजिश और माओवादियों से कथित रिश्तों और गैर-कानूनी गतिविधियों में शामिल होने के आरोप में देश के पांच राज्यों में करीब आठ जगहों पर एकबार फिर छापे मारे। इस दौरान वामपंथी विचारक वरवर राव, अरुण परेरा, गौतम नवलखा, वर्नन गोंजाल्वेज और सुधा भारद्वाज समेत छह लोगों को गिरफ्तार किया गया। सुप्रीम कोर्ट ने इन लोगों को आंशिक राहत देते हुए कहा कि पांचों कार्यकर्ताओं को 6 सितंबर तक उनके घर में ही नजरबंद रखा जाए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App