ताज़ा खबर
 

हिमाचल प्रदेशः बागी मंत्री रहे अनिल शर्मा BJP ने बाहर, पूर्व केंद्रीय मंत्री सुखराम के हैं बेटे

शर्मा, पूर्व केंद्रीय मंत्री पंडित सुखराम के बेटे हैं, जो 2019 के आम चुनाव के ऐन पहले कांग्रेस में शामिल हो गए थे।

Author नई दिल्ली | August 14, 2019 5:07 PM
अनिल शर्मा। (फाइल फोटो)

हिमाचल प्रदेश के ऊर्जा मंत्री रहे अनिल शर्मा को बड़ा झटका लगा है। बुधवार (14 अगस्त, 2019) को भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने उन्हें दल से बाहर का रास्ता दिखा दिया। हिमाचल बीजेपी चीफ सतपाल सत्ती ने पत्रकारों से कहा कि शर्मा को पार्टी से निकाल दिया गया है, जबकि भाजपा के राष्ट्रीय सचिव तरुण चुघ ने ‘एएनआई’ को बताया, “जो भी पार्टी लाइन के खिलाफ जाएगा, उसे कार्रवाई का सामना करना होगा। वह (शर्मा) पार्टी लाइन के बाहर गए, इसलिए ऐक्शन लिया गया।”

वहीं, बीजेपी पार्टी के इस फैसले पर शर्मा ने कहा कि वह पहले ही कबीना मंत्री पद छोड़ चुके थे। हालांकि, उन्हें आधिकारिक तौर पर पार्टी से बाहर किए जाने की जानकारी नहीं मिली है। वह आगे बोले- मैं पार्टी के निर्णय से दुखी हूं, क्योंकि मेरे बेटे का कांग्रेस में जाने का फैसला व्यक्तिगत था।

दरअसल, कांग्रेस ने शर्मा के बेटे आश्रय शर्मा को आम चुनाव में मंडी संसदीय क्षेत्र से मैदान में उतारा था, जिसका उन्होंने (अनिल) समर्थन किया था। बेटे के खिलाफ चुनाव प्रचार की बारी आई, तो उन्होंने इन्कार कर दिया और यही वजह थी कि जय राम ठाकुर की कैबिनेट को उन्हें अलविदा कहना पड़ा।

बीजेपी ने इसी के बाद अनिल शर्मा की जगह पर सिंटिंग एमपी राम स्वरूप शर्मा को मौका दिया था। सूत्रों के मुताबिक, शर्मा पर यह कार्रवाई स्थानीय नेताओं की शिकायत और दबाव पर हुई है। वे शीर्ष नेताओं से शर्मा को पार्टी से निष्कासित करने के लगातार कह रहे थे।

बता दें कि शर्मा, पूर्व केंद्रीय मंत्री पंडित सुखराम के बेटे हैं, जो 2019 के आम चुनाव के ऐन पहले कांग्रेस में शामिल हो गए थे। अनिल शर्मा इससे पहले कांग्रेसी सरकार में भी मंत्री पद संभाल चुके हैं, जबकि चौथी बार विधायक बने थे। वह इसके अलावा साल 1998 से 2004 के बीच राज्यसभा सांसद भी रहे हैं। शर्मा के बेटे आयुष की शादी बॉलीवुड अभिनेता सलमान खान की बहन अर्पिता से हुई है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App