ताज़ा खबर
 

संसद में सोनिया गांधी ने बिना नाम लिए किया RSS पर हमला, कहा – उनका आजादी में कोई योगदान नहीं

Bharat Chhodo Andolan: कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने बिना नाम लिए राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ (RSS) पर हमला किया।

sonia gandhi, congress, roadshowकांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी (FILE PHOTO)

भारत छोड़ो आंदोलन के 75 साले पूरे होने पर संसद में भाषण दिए गए। इसमें कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने बिना नाम लिए राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ (RSS) पर हमला किया। सोनिया ने कहा कि आजादी के आंदोलन (भारत छोड़ो आंदोलन) के वक्त ऐसे संगठन भी थे जिनका कोई योगदान नहीं रहा। सोनिया ने कहा कि ऐसे संगठनों का आजादी से कोई लेना देना नहीं था। सोनिया ने कहा, ‘हमें यह नहीं भूलना चाहिए कि जिस वक्त भारत छोड़ो आंदोलन चल रहा था उस वक्त ऐसे संगठन और व्यक्ति भी थे जिन्होंने इसका विरोध किया था।’ इसपर संसद में भी विरोध होने लगा था। लेकिन उसे किसी तरह काबू किया गया। लेकिन संघ लोग सोनिया के इस बयान से नाराज हैं। राकेश सिन्हा ने कहा कि सोनिया को इतिहास के बारे में ठीक से जानकारी नहीं है। राकेश ने कन्नूर आदि के कुछ उदाहरण देकर कहा कि वहां भारतीय झंडे के लिए संघ कार्यकर्ताओं को फांसी दी गई थी।

इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी बात कही। उन्होंने भारत को आजादी दिलाने वाले नायकों को याद किया था। मोदी ने कहा था कि यह भारतवासियों के लिए गर्व का दिन है।

क्या था भारत छोड़ो आंदोलन: महात्मा गांधी की अगुवाई में आंदोलन शुरू हुआ था। जयप्रकाश नारायण और लोहिया जैसे नेताओं ने आंदोलन का नेतृत्व किया था। 9 अगस्त का दिन इसलिए चुना गया था क्योंकि 1925 में इसी दिन काकोरी कांड हुआ था। आंदोलन की शुरुआत में महात्मा गांधी को नजरबंद और नेहरु को गिरफ्तार कर लिया गया था। 940 लोग मारे गए, 1630 घायल,18 हजार नजरबंद और 60 हजार से ज्यादा लोग गिरफ्तार हुए थे।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 वायु सेना ने आंकी अपनी ताकत, डोकलाम में चीन पर भारी पड़ेंगे भारतीय विमान
2 भारत छोड़ो आंदोलन के 75 साल: लोकसभा में बोले पीएम नरेंद्र मोदी- हमारे लिए गर्व का दिन
3 कम से कम 35-40 लाख रुपए और कड़ी जुगत से अहमद पटेल को मिली है जीत
ये पढ़ा क्या?
X